Thursday , January 21 2021 3:00 PM
Home / Uncategorized / लाखों मौतों के बाद भी यहां पढ़ाई कर रहे हैं सैकड़ों बच्चे, जमीन के नीचे ऐसे चल रही क्लास

लाखों मौतों के बाद भी यहां पढ़ाई कर रहे हैं सैकड़ों बच्चे, जमीन के नीचे ऐसे चल रही क्लास

6image_1
सीरिया: सीरिया के इस इलाके में लाखों मौतों के बाद भी सैकड़ों बच्चे अपना पूरा ध्यान पढ़ाई की तरफ लगा रहे हैं। बता दें कि यहां परिवार से बिछड़ चुके सैकड़ों बच्चे देश के कई इलाकों में गुफाओं, बुलेट्स से तहस-नहस हो चुकी बिल्डिंग्स में मैथ्स, अरबी, इंग्लिश सहित कई सब्जेक्ट्स की पढ़ाई कर रहे हैं। वहीं शिक्षक भी इन्हें पढ़ाने के लिए जान का खतरा मोल ले रहे हैं।

यहां बच्चों के लिए खोल दिया अंडरग्राउंड घर
बताया जा रहा है कि हेमा इलाके के मोहम्मद और उनकी वाइफ ने अपने अंडरग्राउंड घर को 100 बच्चों के लिए खोल दिया है। ये बच्चे सुबह 3-4 घंटे कई सब्जेक्ट्स पढ़ते हैं। मोहम्मद का कहना है कि इन बच्चों को पढ़ाने के लिए गुफा जैसी जगह सबसे ज्यादा सुरक्षित है। क्योंकि वहां एयरस्ट्राइक का असर नहीं होता और सारे बच्चे एक साथ होते हैं। 14 साल के स्टूडेंट अली खालिद स्तॉफ को गुफा में पढ़ाई करने जाना पड़ता है। खास बात तो यह है कि यहां हालात भले ही अच्छे नहीं, लेकिन शिक्षक हमारे साथ अच्छा व्यवहार करते हैं।

कई बार गुफा में लाइट न होने की वजह से हमें अच्छी तरह दिखाई नहीं देता। मारात अल नुमान टाउन के सौरिया अल-अमल स्कूल में बुलेट के कई निशान हैं। फिलहाल इस स्कूल में करीब 250 छात्र हैं। इस वजह से जिन बच्चों का स्कूल मिल हो गया था, वे अब छोटे छात्रों के साथ पढ़ाई की कोशिश कर रहे हैं। इन्होंने कहा कि सबसे बड़ी चिंता है यहां के आसमान में लगातार वॉर प्लेन उड़ते हैं। इनसे बच्चे हमेशा डरे रहते है। वहीं दूसरी ओर सराकिब टाउन में जो बच्चे स्कूल नहीं जा सकते, उनके लिए मोबाइल एजुकेशन की व्यवस्था की गई। यहां बहुत सी किताबें नहीं मिलतीं, इसलिए बच्चों को चैरिटी में मिलीं या टर्की की यूज्ड बुक्स से पढ़ाया जाता है। यहां बच्चों को वही पढ़ाई कराई जा रही है जैसी सरकार करवा रही है।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This