Wednesday , April 14 2021 2:25 AM
Home / Spirituality / रसोईघर में रख लें कान्हा की ऐसी तस्वीर, कभी नहीं होगी धन-धान्य की कमी

रसोईघर में रख लें कान्हा की ऐसी तस्वीर, कभी नहीं होगी धन-धान्य की कमी

किचन घर की ऐसी जगह है, जहां सिर्फ मां अन्नपूर्णा ही नहीं बल्कि राहु-केतु व देवी देवता वास करते हैं। जहां भोजन पकाते वक्त गृहणी अन्नपूर्णा और भोज्यकर्ता बन जाती है वहीं, किचन में रखी हर चीज जीवन में सुख-शांति लाने का काम करती है। ऐसे में आप किचन में समान को वास्तु के अनुसार सही जगह पर रखकर किस्मत बदल सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि किचन में कौन-सी चीज किस जगह पर रखनी चाहिए।
माखन खाते हुए कान्हा : रसोईघर में माखन खाते हुए कान्‍हा की तस्वीर जरूर लगाएं। मान्‍यता है क‍ि इससे कभी भी धन-धान्‍य की कमी नहीं होती।
सबसे ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण गैस स्टोव की जगह : वास्‍तुशास्‍त्र के अनुसार गैस स्टोव भी दक्षिण-पूर्व दिशा में रखना चाहिए क्योंकि खाना पकाने समय आपका मुंह इस दिशा में होना चाहिए। दरअसल, यहां मंगल और सूर्य की रेखाएं टकराती है , जिससे शुक्र की डायरेक्शन क्रिएट हो जाती है। इसलिए इस दिशा में पका भोजन शुभ ही नहीं बल्कि स्वस्थ भी होता है।
माइक्रोवेव की सही जगह : माइक्रोवेव हमेशा दक्षिण-पश्चिम द‍िशा में ही रखना शुभ माना जाता है। मान्‍यता है क‍ि इससे घर में पॉजिटिव एनर्जी का संचार होता है और घर परिवार की सेहत भी अच्छी रहती है।
कहां रखें रेफ्रिजरेटर : रेफ्रिजरेटर एक इलेक्ट्रिक मशीन है, जिसे कभी भी दक्षिण द‍िशा में नहीं रखना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि दक्षिण द‍िशा का तत्व ‘अग्नि’ है इसलिए रेफ्रिजरेटर का ठंडा तापमान उससे मेल नहीं खाता।
पानी की व्यवस्था : वास्तु के अनुसार, उत्तर-पूर्व दिशा पानी की व्यवस्था के लिए बिल्कुल सही है। अगर शेल्फ भी इसी दिशा में बनवाई है तो पानी का नल उससे कम से कम 1/2 इंच नीचा रखें।
ओपन किचन के लिए टिप्स : ओपन किचन काफी हद तक ठीक रहता है लेकिन यहां स्ट्रांग चिमनी की व्यवस्था जरूर करवाएं। ऐसा इसलिए क्योंकि घर के सेंटर में धुआं आना सही नहीं माना जाता है। साथ ही क‍िचन में कभी भी काले रंग का पत्‍थर और ना ही दीवारों पर ये रंग करवाएं।
जूते-चप्पल रखें बाहर : मंदिर के बाद रसोई घर का सबसे पवित्र स्थान माना जाता है इसलिए जूते-चप्पल हमेशा बाहर उतारें। नहीं तो आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
जरूरी होनी चाहिए खिड़कियां : रसोई में वैंटिलेशन के लिए खिड़की और एग्जॉस्ट फैन जरूर होना चाहिए। इससे सूरज की किरणें और ताजा हवा रसोई तक पहुंच पाएंगी, जिससे यहां का वातावरण शुद्ध होगा।
रसोई और बाथरूम दूर-दूर : ध्यान रखें कि रसोई के पास या आमने-सामने बाथरुम, मंदिर भी ना बनवाएं। वास्तु के अनुसार, ऐसा करना अशुभ माना जाता है इसलिए इन्हें हमेशा विपरीत दिशा में बनवाना चाहिए।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This