Wednesday , April 14 2021 2:35 AM
Home / Lifestyle / मेरे पति के लिए मेरा प्यार खत्म हो चुका है और इसकी वजह मेरा बेटा है

मेरे पति के लिए मेरा प्यार खत्म हो चुका है और इसकी वजह मेरा बेटा है

मेरे पति के लिए मेरा प्यार खत्म हो चुका है और इसकी वजह मेरा बेटा है : प्यार, शादी और फिर परिवार को आगे बढ़ाना, उनका ख्याल रखना व हंसते-खेलते जिंदगी के हर पल को जीना। ऐसी जिंदगी की कल्पना ज्यादातर लोग करते हैं। हालांकि, लाइफ में आगे क्या और कैसे कोई ट्विट आ जाए, इसके बारे में अंदाजा लगाना तक मुश्किल है। ऐसा ही कुछ एक महिला के साथ हुआ है, जो अपने पति से बेहद प्यार करती थी, लेकिन अब वह उसकी जिंदगी में पहली प्राथमिकता नहीं रहा है। चलिए जानते हैं इस महिला की पूरी कहानी।
मेरे पति में थीं सारी खूबियां : मैंने कई लड़कों को डेट किया है, जिसके बाद आखिरकार मैं अपने पति के साथ शादी के बंधन में बंधी। उनमें वो सारी खूबियां थीं, जो मुझे मेरे पूर्व बॉयफ्रेंड्स में नहीं मिली थी। वह बातें करने में माहिर थे और किसी भी नई स्थिति में बेहद आसानी से ढल जाते थे। वह मुझे स्पेस देते थे, जो मेरे उन पुराने रिश्तों से अलग था, जिनके कारण मैं घुटन महसूस करने लगी थी। मेरे पति को स्पोर्ट्स पसंद है और उन्होंने कभी नहीं कहा कि मुझे वजन कम करना चाहिए या किसी खास तरह से दिखना चाहिए।
शादी के शुरुआती 4 साल : हमने जब डेट करना शुरू किया, तब मैं बहुत खुश थी और फिर हमारी शादी हो गई। शादीशुदा जिंदगी के पहले चार साल बेहद खुशी के साथ गुजरे। हम घूमने जाते थे, पार्टी करते थे और जब जो मन करता था, वो सब करते थे। मेरे लिए पति के साथ बिताया एक लम्हा भी बोरिंग नहीं होता था। हालांकि, इसके बाद हमारे ऊपर परिवार को आगे बढ़ाने का प्रेशर आने लगा और इसका असर हम दोनों पर हुआ।
प्रेग्नेंसी पीरियड किया इंजॉय : मुझे जिस दिन प्रेग्नेंसी के पॉजिटिव साइन्स दिखे, उस दिन मैं घंटों तक रोई। मुझे लगा जैसे मेरी जिंदगी का एक हिस्सा खत्म होने वाला है। हालांकि, तब मुझे अहसास तक नहीं था कि वाकई में आगे चलकर ऐसा ही होने वाला है। प्रेग्नेंसी का एक्सपीरियंस शानदार रहा। हम ट्रैवल करने के अलावा वो सारी चीजें कर रहे थे, जो पहले किया करते थे। लेकिन डिलिवरी के दिन के बाद सबकुछ बदल गया।
और बदल गया सबकुछ : मेरे लिए मेरा बेटा मेरी पूरी दुनिया बन गया और पति दूसरी प्राथमिकता। ये बदलाव इतना सहजता के साथ आया कि मुझे इसका अहसास तक नहीं हुआ। मुझे बस अपने बेटे के बारे में सोचना और बातें करना पसंद था। इसके अलावा और किसी चीज में मेरी रुचि नहीं थी। मैंने अपना जॉब तक छोड़ दिया क्योंकि मैं बेटे को किसी और के साथ नहीं छोड़ना चाहती थी। अब मैं और मेरे पति सिर्फ तभी बात करते हैं, जब मैं उनसे शिकायत करती हूं कि वह बेटे के साथ ज्यादा समय नहीं बिताते। इस पर वह कहते हैं कि तुम हम दोनों का समय उसे दे रही हो!
पति के लिए प्यार हो गया खत्म : इसके बाद मेरे पति ने अपने दोस्तों के साथ प्लान्स बनाना शुरू कर दिए। मैं हमेशा अपने बेटे के सोने के समय को लेकर चिंतित रहती थी, जिस वजह से मैंने पति के साथ जाना बंद कर दिया और फिर उन्होंने पूछना भी बंद कर दिया। मेरा बेटा अब तीन साल का है और मैं ये कह सकती हूं कि वह मेरी जिंदगा सबसे अहम व्यक्ति बन गया है। हां, मैंने इसके कारण पति के लिए अपना प्यार खो दिया है।
मुझे कभी-कभी बुरा महसूस होता है, लेकिन मेरा मानना है कि मेरे पति को ये सब साफ दिखाई दे रहा था पर उसमें मुझसे इस बारे में बात करने की हिम्मत नहीं थी। मुझे लगता है कि मैं कभी भी वैसा प्यार करना नहीं सीख पाऊंगी, जैसा मैं अपने बेटे को करती हूं, क्योंकि ये निर्मल प्रेम है।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This