Monday , May 10 2021 3:39 PM
Home / Entertainment / Bollywood / कबीर बेदी और परवीन बाबी के अफेयर को बीवी प्रतिमा ने दिया था बढ़ावा!

कबीर बेदी और परवीन बाबी के अफेयर को बीवी प्रतिमा ने दिया था बढ़ावा!


बॉलिवुड के जाने- माने एक्टर कबीर बेदी (Kabir Bedi) कई शानदार फिल्में की है। लेकिन कबीर बेदी अपनी प्रोफेशनल लाइफ से ज्यादा पर्सनल लाइफ को लेकर अक्सर चर्चा में रहें। हाल ही में कबीर बेदी ने सलमान की मौजूदगी में अपनी बायोग्राफी ‘स्टोरीज आई मस्ट टेल: द इमोशनल लाइफ ऑफ द एक्टर’ ( Kabir Bedia Book Stories I Must Tell) जारी की है, जिसमें उन्होंने यह भी खुलासा किया है की जब कबीर (Kabir Bedia First wife Protima encouraged Kabir to have an affair with Parveen) की पहली पत्नी प्रतिमा को उनके और
परवीन बाबी के रिश्ते के बारे में पता चला तो उन्होंने इस रिश्ते को और बढ़ावा दिया। आपको बता दें कि अपनी बायोग्राफी में कबीर बेदी ने अपने पर्सनल लाइफ से जुड़े कुछ ऐसे राज उजागर किये हैं जिसके कुछ- कुछ हिस्से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।
अपनी बायोग्राफी में कबीर बेदी (Kabir Bedia) ने खुलासा किया है जब वह परवीन बाबी के प्यार में पड़ गए तो किस तरह से उन्होंने अपनी पत्नी प्रतिमा से अपनी शादी तोड़ी, यह पूरी कहानी बड़े दिलचस्प तरीके से किताब में लिखी गई है। साथ ही इसमें यह भी जिक्र किया है की वह अपनी पत्नी प्रतिमा के साथ ‘ओपेन मैरेज’ में थे। शुरुआत में तो सबकुछ ठीक था लेकिन बाद में चीजें बदलनी लगी। दोनों के बीच प्यार की कमी थी, सिर्फ इतना ही नहीं दोनों एक दूसरे के लिए वैसा प्यार महसूस नहीं करते थे जैसा करना चाहते थे।
बेदी लिखते हैं कि वह अकेला महसूस कर रही थे, वह पूरी से अकेले और खाली पड़ गए थे। तभी उनकी जिंदगी में परवीन बाबी आई जिसने उनके उस खालीपन को भर दिया। बता दें कि कबीर बेदी ने 1969 में प्रतिमा से शादी की थी और 1977 में उनका तलाक हो गया। कबीर बेदी ने अपने किताब में खुलासा करते हुए लिखा कि उनकी पत्नी प्रतिमा ने परवीन बाबी और कबीर के रिलेशनशिप को लेकर 1997 में स्टारडस्ट मैगजीन को एक इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होंने बताया था कि कबीर को परवीन के साथ रिलेशनशिप में आने के लिए मैंने ही बढ़ावा दिया था और उसे कहा था कि आप आराम से परवीन के साथ रिश्ते में रह सकते हैं।
मुझे कबीर और परवीन के रिश्ते से कोई तकलीफ नहीं थी। मैं नहीं चाहती थी कि यह सब की वजह से हमारी जिंदगी में और भी मुश्किलें आए। इसलिए मैं चाहती थी कि कैसे भी कबीर मेरे पास वापस आ जाए। कबीर और मैं एक दूसरे को उस तरह से एट्रैक्ट नहीं कर पाते थे जैसे करना चाहिए था। मैं वैसे को अपने करीब क्यों न रखुं जिससे मेरा ही फायदा है। मैंने हाउस पार्टी रखी और मेरी ही हाउस पार्टी में मैंने कबीर और परवीन को काफी करीब देखा ऐसे में दोनों के रिश्ते को बढ़ावा देना ही मुझे सही लगा।
बेदी आगे अपनी किताब में लिखते हैं प्रतिमा जोकि अब हमारे बीच नहीं है, लेकिन वह हमेशा से चाहती थी कि परवीन और मैं साथ करें। लेकिन उसने परवीन को यह भी समझाया था कि वह कबीर को ज्यादा सीरियस न लें। इंटरव्यू में प्रतिमा ने इस बात का भी जिक्र किया था कि कबीर के साथ अपनी शादी टूटने के लिए वह कभी परवीन को जिम्मेदार नहीं मानती।
प्रतिमा ने उसे इंटरव्यू में यह भी बताया था की कबीर पूरी- पूरी रात परवीन बाबी के साथ बाहर रहता था। मुझे इससे कोई तकलीफ नहीं थी। मैं अपनी आजादी के अलावा उसे सबकुछ देने को तैयार थी। वह कुछ भी कर सकता था, मुझे और बच्चे को लेकर वह कभी भी बाहर नहीं जाता था लेकिन तब भी हम एक परिवार की तरह एक घर में रह सकते थे।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This