Sunday , April 21 2024 11:32 AM
Home / Hindi Lit / जोक्स : सुहाग रात और सत्संग और बापू की बिल्ली

जोक्स : सुहाग रात और सत्संग और बापू की बिल्ली

सुहाग रात और सत्संग 

सुहागरात

सुहाग रात के दिन पति दरवाजा बंद कर के अपनी पत्नी के करीब गया।
उसका घूंघट उठाकर बोला-
आज से हम पति-पत्नी हैं।
घर के सभी बड़े-बुजुर्गों को सम्मान देना।
उनका आशीर्वाद पाना।
छोटों को प्यार देना।
सभी के साथ अच्छा बर्ताव करना।
सुबह-शाम भगवान की पूजा पाठ करना।
घर में किसी को भी कभी कोई अपशब्द मत बोलना

.तभी पत्नी उठी और दरवाजा खोल कर चिल्लाई
.
सब अंदर आ जाओ, सत्संग चल रहा है!!!

 

बापू की बिल्ली

बापू की बिल्ली

बापू अपनी बिल्ली से तंग आकर उसे दूर छोड़ आए।

घर आए, तो बिल्ली वापस आ चुकी थी।

वह दूसरी बार छोड़ आए, और बिल्ली फिर वापस आ गई।

तीसरी बार उसे बहुत दूर जंगल में छोड़कर आए। वापसी में अम्मा को फोन करके पूछा, क्या बिल्ली घर आ गई?

अम्मा: हां

बापू: उस कमीनी को भेज यहां, मैं रास्ता भूल गया हूं।
 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *