Thursday , October 22 2020 1:58 PM
Home / News / India / अावाज-ए-पंजाब’ सिद्धू ने बनाई नयी पार्टी, पंजाब के राजनीतिक समीकरण बदले

अावाज-ए-पंजाब’ सिद्धू ने बनाई नयी पार्टी, पंजाब के राजनीतिक समीकरण बदले

navjot-sidhu-new-party_65नई दिल्ली. बीजेपी से दूरी के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने अब पंजाब में एक नया मोर्चा बनाया है। इसका नाम है- अावाज-ए-पंजाब। राज्य में अगले साल चुनाव हैं। इससे पहले बीजेपी के पूर्व राज्यसभा सांसद सिद्धू के इस कदम को काफी अहम माना जा रहा है। सिद्धू के साथ इस मोर्चे में पूर्व हॉकी कैप्टन और ओलिंपियन परगट सिंह और बैंस ब्रदर्स- सिमरजीत सिंह और बलविंदर सिंह भी शामिल हैं। अगर यह फ्रंट चुनाव लड़ता है तो राज्य की 41 सीटों के नतीजों पर असर डाल सकता है। राज्य में चौथे मोर्चे की जमीन तैयार…

– न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, आवाज-ए-पंजाब की ऑफिशियल लॉन्चिंग अगले हफ्ते की जा सकती है।

– सिद्धू की वाइफ नवजोत कौर ने कहा है- “परगट सिंह और बैंस ब्रदर्स के साथ हमने नया मोर्चा बनाया है। यह पंजाब के खिलाफ काम करने वालों के विरोध में अपनी आवाज बुलंद करेगा। मोर्चे का एलान 8 सितंबर को किया जाएगा।”

– मशहूर हॉकी प्लेयर रहे परगट सिंह ने शुक्रवार को अपने फेसबुक अकाउंट में भी इस मोर्चे का पोस्टर पोस्ट किया है। इसमें सिद्धू को परगट सिंह, सिमरजीत सिंह बैंस और बलविंदर सिंह के साथ दिखाया गया है।

– सिद्धू ने जुलाई में राज्यसभा की मेंबरशिप से इस्तीफा दे दिया था।

– पंजाब में अभी बीजेपी-अकाली दल एलायंस की सरकार है। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी भी असेंबली चुनाव की तैयारी में जोर-शोर से जुटी हैं।

– माना जा रहा है कि आवाज-ए-पंजाब के साथ राज्य में चौथे मोर्चे की जमीन तैयार हो गई है।

siddhu_a_1472826305पंजाब की कितनी सीटों पर पड़ सकता है असर?

– सिद्धू पटियाला के रहने वाले हैं, अमृतसर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ते रहे हैं। यहां से 10 साल सांसद रहे हैं।
– परगट सिंह जालंधर ईस्ट से विधायक हैं। अकाली दल से सस्पेंड हो चुके हैं।

– सिमरजीत सिंह बैंस लुधियाना की आत्म नगर सीट और बलविंदर सिंह बैंस लुधियाना साउथ से निर्दलीय विधायक हैं।
– इन चारों जिलों में 41 विधानसभा सीटें हैं, जिन पर ‘आवाज-ए-पंजाब’ फ्रंट असर डाल सकता है।

किस जिले में कितनी विधानसभा सीटें?
जिला – विधानसभा सीटें
अमृतसर – 10
पटियाला – 8
जालंधर – 9
लुधियाना – 14

आप का सीएम कैंडिडेट बनना चाहते थे सिद्धू !

– इससे पहले ये खबर आई थी कि सिद्धू 15 अगस्त को आम आदमी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। हालांकि बाद में ये भी खबर आई थी कि सिद्धू की शर्तों से पार्टी सहमत नहीं हुई।
– कहा जा रहा था कि सिद्धू पंजाब में आप के सीएम कैंडिडेट बनना चाहते थे।
– इस पर आप के नेशनल कन्वीनर अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था कि सिद्धू ने कोई शर्त नहीं रखी है, उन्होंने अपने फ्यूचर के लिए सोचने का वक्त मांगा है।

बीजेपी से क्यों हुए थे नाराज?

– 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने अमृतसर सीट से इनका टिकट काट दिया था।
– सिद्धू 10 साल से इस सीट से सांसद थे। इनकी जगह पार्टी ने अरुण जेटली को कैंडिडेट बनाया था।
– बीजेपी का यह दांव उलटा पड़ा। जेटली चुनाव हार गए। तब से ही सिद्धू पार्टी से नाराज बताए जा रहे थे।
– बीजेपी ने अप्रैल में इन्हें राज्यसभा मेंबर बनाया। बीजेपी को उम्मीद थी कि सिद्धू की नाराजगी दूर हो जाएगी।
– लेकिन जुलाई में सिद्धू ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

 

About indianz xpress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pin It on Pinterest

Share This