Saturday , November 27 2021 9:11 PM
Home / News / India / ‘अम्मा’ जयललिता नहीं रहीं, राज्य सदमे में 

‘अम्मा’ जयललिता नहीं रहीं, राज्य सदमे में 

 

l_indian-navy-1480967775चेन्नई।

लंबी बीमारी के बाद तमिलनाडु की सीएम जे. जयललिता का सोमवार की रात निधन हो गया। जयललिता 68 साल की थीं और उन्होंने 11.30 पर अंतिम सांस ली। उनके निधन के साथ ही पूरे राज्य में शोक की लहर दौड़ गई। हर जगह मामत का माहौल हैं और उनके शुभचिंतक गहरे सदमें  में हैं।

जयललिता के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना दुख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धजलि दी। जैसे ही उनकी मौत की खबर आई, उनके समर्थक फूट-फूटकर रोने लगे।

आम जनता के दर्शन के लिए जयललिता के पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल में रखा जाएगा। उनके निधन के बाद तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गई है। जयललिता के शव को अस्पताल से उनके घर पोएस गार्डन ले जाया जाएगा। इसके लिए अस्पताल से उनके घर तक विशेष कॉरीडोर बनाया गया है।

पीएम, राष्ट्रपति, सोनिया ने जताया शोक

जयललिता के निधन से काफी दुख हुआ, उनके निधन से भारतीय राजनीति में भारी रिक्ति पैदा हुई है। मैं उन अनन्त मौकों को हमेशा संजोकर रखूंगा जब मुझे जयललिता जी के साथ बातचीत का मौका मिला, भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।—- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

जयललिता को मेरी ओर से हार्दिक श्रद्धांजलि, राष्ट्र ने एक ऐसे नेता को खो दिया जिसके करोड़ों चाहने वाले थे।— राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

दक्षिण के सुपरस्टार रजनीकांत के दामाद धनुष ने भी अम्मा के निधन पर शोक संदेश को ट्वीट किया है और लिखा है कि आपके जाने से जो स्थान खाली हुआ है उसे कभी भरा नहीं जा सकेगा

क्रिकेटर विरेंद्र सहवाग ने भी तमिलनडु के लोगों को इस दुखद समाचार को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है

 

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This