Sunday , December 5 2021 8:55 PM
Home / News / India / नहीं देखा होगा ऐसा दिवाली बोनस, 1660 वर्कर्स को 1260 कार और 400 मकान

नहीं देखा होगा ऐसा दिवाली बोनस, 1660 वर्कर्स को 1260 कार और 400 मकान

1
अहमदाबाद: दिवाली आ रही है, बोनस का वक्त है। हर व्यक्ति की इच्छा होती है कि उसे बोनस मिले लेकिन अगर जब बोनस में कार या घर मिल जाए तो सोने पर सुहागा। जी हां हम बात कर रहे हैं गुजरात के उस व्यापारी की जो अपनी कंपनी में काम कर रहे वर्करों के अच्छे प्रदर्शन पर बोनस के रूप में कार और मकान देने की घोषणा की है। यह ऐलान गुजरात के सूरत शहर के हीरा व्यापारी सवजी भाई ढोलकिया ने की है। यह इनाम कंपनी के 1660 वर्करों को दिया जा रहा है।

गत वर्ष भी दी थीं 491 कार और 200 मकान
इस घोषणा में 1660 वर्कर्स को 51 करोड़ कीमत की 1260 कार और 400 मकान दिए जाएंगे। इसके अलावा 56 वर्कर्स को ज्वैलरी दी जाएगी। ऐसा पहली बार नहीं जब ढोलकिया ने ऐसा किया हो इससे पहले 2014 में 1312 वर्कर्स को कार और मकान दिए थे। जिसमें 491 कार, 200 मकान और ज्वैलरी बोनस के रूप में बांटा था। बीते मंगलवार को पारिवारिक स्नेह मिलन कार्यक्रम में कंपनी हरेकृष्णा एक्सपोर्ट के चेयरमैन सवजी भाई ने इस घोषणा का ऐलान किया।

ढोलकिया का है 6,000 करोड़ का टर्नओवर
इस वर्ष जिन्हें बोनस दिया जा रहा है, उनमें पिछली बार के वर्कर्स शामिल नहीं है। सवजी भाई ढोलकिया कहते हैं- ‘आज भाई-भाई के बीच कटुता देखने को मिल रही है, ऐसे में किसी दूसरे को कार देने की भावना हरेकृष्णा कंपनी में ही देखने को मिल सकती है। बता दें कि कंपनी हरेकृष्णा एक्सपोर्ट का टर्नओवर करीब 6,000 करोड़ रुपए है। 5 हजार रुपए का प्रीमियम 5 साल तक कंपनी देगी। हरेकृष्णा एक्सपोर्ट के जिन 1660 वर्कर्स को सर्वश्रेष्ठ परफॉर्मेंस के लिए चुना गया है, उसमें से 1200 वर्कर ऐसे हैं, जिनका वेतन 10 हजार रुपए से लेकर 60 हजार रुपए तक है।

वर्कर्स को मिलेगी हर संभव मदद
जिन 400 वर्कर्स को मकान देने का फैसला किया गया है, उन्हें डाउन पेमेंट की कोई रकम नहीं चुकानी होगी। वर्कर्स पर बोझ न पड़े, इसलिए हर महीने 5 साल तक 5 हजार रुपए का प्रीमियम कंपनी चुकाएगी। कंपनी मकान के लिए लोन दिलाने में भी पूरी मदद करेगी। कार लेने वाले वर्कर्स को मारूति या निशान का ऑप्शन दिया गया है। इस कंपनी को अगले साल 25 वर्ष पूरे हो रहे हैं। कंपनी के प्रमुख सवजी भाई चाहते हैं कि तब तक सभी 5500 वर्कर्स के पास अपने मकान और कार हों। मारूति 800 जब मार्केट में आई थी, तब भी दो वर्कर्स को बोनस के रूप में यह कार दी गई थी।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This