Monday , March 4 2024 12:45 AM
Home / News / India / इंडोनेशिया में गुरदीप को मौत की सजा आज, परिजनों ने सुषमा से लगाई गुहार

इंडोनेशिया में गुरदीप को मौत की सजा आज, परिजनों ने सुषमा से लगाई गुहार

sushmaswaraj-b
नई दिल्ली: नशीली दवाओं की तस्करी के मामलों में इंडोनेशिया की जेल में बंद एक भारतीय समेत 14 लोगों को एक साथ मौत की सजा दी जाएगी। इस भारतीय को बचाने के लिए भारत सरकार अपनी ओर से भरपूर कोशिश कर रही है।

अब से कुछ देर बाद मिलेगी मौत की सजा
48 साल के भारतीय गुरदीप सिंह भी शामिल हैं। जेल में सजा की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। ताबूत बुला लिए गए हैं। धार्मिक कर्मकांड करने वाले मौलवी, पुजारी और पादरी को भी बुला लिया गया है। मौत की सजा पाने वाले में गुरदीप के अलावा पाकिस्तान, नाइजीरिया और जिम्बाब्वे के लोग शामिल हैं। यूनाईटेड नेशंंस ने इंडोनेशिया सरकार से सजा रोकने की अपील की है। गुरदीप सहित 14 लोगों को गोली मार दी जाएगी।

क्या था मामला?
48 वर्षीय गुरदीप सिंह को 300 ग्राम हेरोइन की तस्करी करने की कोशिश में इंडोनेशिया में वर्ष 2004 में गिरफ्तार किया गया था। इंडोनेशिया के तांगेरांग बांटेन प्रांत में एक जिला अदालत ने सिंह को कथित तौर पर मौत की सजा सुनाई है। वह पंजाब के जालंधर का रहने वाला है। गुरमीत उन 14 लोगों में है, जो मौत की सजा का सामना कर रहे हैं। सभी दोषियों को नुसा कामबांगान जेल में सजा दी जाएगी। इसकी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। इस सजा के खिलाफ इंडोनेशिया में प्रदर्शन हो रहे हैं।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दिलाया भरोसा
गुरदीप सिंह की पत्नी ने सुषमा स्वराज से बात करते हुए गुरदीप को रिहा कराने की अपील की। गुरदीप सिंह की पत्नी ने कहा कि उनके पति ने इतने साल इंडोनेशिया में सजा काट चुके हैं। उसने कहा कि भले ही उसकी सजा को बढ़ाया जाए लेकिन मृत्युदंड न दिया जाय।

विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा कि मादक पदार्थ से जुड़े एक मामले में इंडोनेशिया में मौत की सजा का सामना करने जा रहे भारतीय नागरिक की जान बचाने के लिए सरकार आखिरी वक्त की कोशिशें कर रही है। सुषमा स्वराज ने जवाब में कहा कि अगर भगवान ने चाहा तो आज छूट सकता है गुरदीप।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *