Sunday , July 3 2022 11:41 AM
Home / News / India / नीलाम होंगी महात्मा गांधी से जुड़ी ऐतिहासिक धरोहर, 5 करोड़ में बिक सकती हैं 70 चीजें

नीलाम होंगी महात्मा गांधी से जुड़ी ऐतिहासिक धरोहर, 5 करोड़ में बिक सकती हैं 70 चीजें

ब्रिटेन में महात्मा गांधी से जुड़ी कई चीजों की नीलामी होने जा रही है। इसमें गांधी के हाथों से बनाए गए कपड़े, लकड़ी की चप्पल और जीवित गांधी की संभवतः आखिरी तस्वीर शामिल है। उम्मीद जताई जा रही है कि ये ऐतिहासिक धरोहरें करीब पांच लाख पाउंड यानी 4.74 करोड़ रुपए की कीमत में नीलाम हो सकती हैं। इस कलेक्शन में कुल 70 चीजें शामिल हैं जो गांधी से जुड़ी हैं। इसमें सबसे अहम उनके द्वारा बनाए गए कपड़े, जेल में लिखे उनके खत और दो जोड़ी चप्पल हैं।
मिरर की खबर के अनुसार East Bristol Auctions को उम्मीद है कि गांधी की 70 चीजों का कलेक्शन 500,000 पाउंड की रकम जुटा सकता है। इससे पहले संस्था ने गांधी का चश्मा 2.46 करोड़ रुपए में नीलाम किया था। नीलामीकर्ता एंड्रयू स्टोव ने कहा कि ये चीजें नीलामी में शामिल होने वाली अब तक की सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से हैं। यह कलेक्शन दुनिया के इतिहास के लिए बेहद अहम है। यह लोगों को चौंका देगा। इस कलेक्शन में गांधी की एक तस्वीर शामिल हैं जिसे उनकी निधन से पहले की अंतिम तस्वीर माना जा रहा है।
1947 को बिरला हाउस में खींची तस्वीर : खबर के अनुसार यह तस्वीर उसी जगह की है जहां तीन हफ्तों बाद उनकी हत्या कर दी गई थी। तस्वीर में वह जिस कुर्सी पर बैठे हैं, यह वही कुर्सी है जिस पर वह अपने आखिरी दिन बैठे थे। एंड्रयू ने कहा कि यह बेहद अनमोल चीज है जो 1000 पाउंड (94 हजार रुपए) में बिक सकती है। उन्होंने कहा कि हमारा मानना है कि गांधी के निजी डॉक्टर ने यह तस्वीर ली थी। यह अद्भुत है। यह तस्वीर 1947 को नई दिल्ली के बिरला हाउस में खींची गई थी, जिसमें महात्मा गांधी चरखे के साथ बैठे नजर आ रहे हैं। एंड्रयू को उम्मीद है कि गांधी के हाथों से बनाए गए कपड़े नीलामी में 15000-25000 पाउंड की रकम जुटा सकते हैं।
चिट्ठी में ब्रिटिश हुकूमत को लिखा- जहरीली हवा : गांधी अपने कपड़े खादी से बनाते थे। एंड्रयू ने कहा कि न सिर्फ ये कपड़े गांधी द्वारा पहने गए बल्कि उनके द्वारा बनाए भी गए थे। वह खादी को पश्चिमी सभ्यता के विरोध और भारत के पारंपरिक कपड़ों का प्रतीक मानते थे। यह सिर्फ एक कपड़े से कहीं ज्यादा है। यह उस वक्त की सबसे बड़ी राजनीतिक विचारधारा थी। कलेक्शन में सबसे महत्वपूर्ण वे खत हैं जिन्हें गांधी में पूना की जेल में लिखा था। इसकी एक चिट्ठी में गांधी ने ब्रिटिश हुकूमत को ‘जहरीली हवा’ करार दिया था। माना जा रहा है कि यह 10,000 पाउंड में बिक सकता है।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This