Saturday , November 27 2021 9:09 PM
Home / News / इस लड़की से डर गया आईएसआईएस, सिर पर रखा 10 लाख डॉलर का इनाम

इस लड़की से डर गया आईएसआईएस, सिर पर रखा 10 लाख डॉलर का इनाम

15
लंदन। दुनिया के लिए आतंक का चेहरा बन चुका आईएसआईएस भी एक कुर्दिश डेनिस महिला से खौफ खाता है। आईएस आतंकियों से सीरिया ईराक में लोहा ले रहीं कुर्दिश सेना की लेडी फाइटर जोआना पलानी आईएसआईएस प्रमुख बगदादी के लिए सिरदर्द बन गईं हैं। जिसके चलते इस्लामिक स्टेट ने घोषणा की है कि जो कोई भी पलानी को जान से मारेगा उसे 10 लाख डॉलर (6 करोड़ 78 लाख रुपए) का इनाम दिया जाएगा।

फिलहाल जेल में बंद
23 वर्षीय जोआना पलानी ने सीरिया और ईराक में आतंकी समूह से लडऩे के लिए 2014 में यूनिवर्सिटी को छोड़ दिया था। फि लहाल वह डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन की एक जेल में बंद हैं और उन पर मुकदमा चल रहा है। इसके पीछे वजह यह है कि जून 2015 में उन पर 12 महीने का ट्रैवल बैन लगाया गया था। अगर उन्हें दोषी पाया जाता है तो उन्हें दो साल की सजा हो सकती है।

कई भाषाओं में फरमान
डेनमार्क वापसी के मद्देनजर पलानी को अक्सर दोनों तरफ से धमकियां मिलती रहती हैं। लेकिन हाल ही में आईएस ने उसकी हत्या का फ रमान जारी किया है और हत्या करने वाले को इनाम की पेशकश भी की है। आईएस ने यह फ रमान सप्ताह के अंत में अरब मीडिया के माध्यम से कई भाषाओं में जारी किए हैं।

जन्म शरणार्थी शिविर में
ईरानी कुर्दिस्तान में जड़ें रखने वाले परिवार की जोआना पलानी का जन्म पहले खाड़ी युद्ध के दौरान इराक के रमादी में एक शरणार्थी शिविर में हुआ था। उसके बचपन में ही उसके परिवार को डेनमार्क में शरण हासिल हो गई थी।

जब वर्ष 2014 में आईएसआईएस उभरने लगा, तो उनके खिलाफ लडऩे के लिए कुर्दिश आंदोलन में शिरकत करने की खातिर पलानी ने राजनीति विषय की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी, और उत्तरी सीरिया में कुर्दिश पीपल्स प्रोटेक्शन यूनिटों (वाईपीजी) तथा इराक में पेशमेग्रा फौज, दोनों की तरफ से लडऩे लगी।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This