Sunday , July 21 2024 6:45 PM
Home / News / अमेरिका ने चीन से कहा, खाली करो दक्षिण चीन सागर

अमेरिका ने चीन से कहा, खाली करो दक्षिण चीन सागर

12
वाशिंगटन। अमेरिका दक्षिण चीन सागर में चीन को मनमानी नहीं करने देगा। 20 जनवरी को अमेरिकी राष्ट्रपति पद की शपथ लेने जा रहे डोनाल्ड ट्रंप द्वारा विदेश मंत्री के तौर पर नामित रेक्स टिलरसन ने बीजिंग को लेकर सख्त तेवर दिखाए हैं। उन्होंने चीन से कृत्रिम द्वीप खाली करने और विवादित क्षेत्र में दखल नहीं देने को कहा है।

अपने नामांकन की पुष्टि के लिए सीनेट की विदेश मामलों की समिति की सुनवाई के दौरान टिलरसन ने यह बात कही। उन्होंने कहा, दक्षिण चीन सागर में चीन की गतिविधियां चिंता पैदा करती है। इस इलाके में द्वीप का निर्माण बंद करने और कृत्रिम द्वीपों को खाली करने का हम उसे स्पष्ट संकेत भेजेंगे।

चीन को दखल की इजाजत नहीं दी जाएगी। ताइवान के साथ मजबूत संबंधों की वकालत करते हुए उन्होंने “एक चीन” नीति में बदलाव से इन्कार किया।

गौरतलब है कि दक्षिण चीन सागर के इलाकों को लेकर चीन का फिलीपींस, वियतनाम, मलेशिया, ब्रूनेई और ताइवान से विवाद है। बीते साल अंतरराष्ट्रीय न्यायाधिकरण ने चीन का एकाधिकार खारिज कर दिया था।

फैसले को ठुकराते हुए चीन ने इस क्षेत्र में अपनी गतिविधियां बढ़ा रखी है। बीजिंग ताइवान की राष्ट्रपति और ट्रंप की सीधी बातचीत से भी परेशान है और अमेरिका को कई बार चेता चुका है।

मुसलमानों पर पाबंदी का विरोध

टिलरसन ने अमेरिका में मुसलमानों के प्रवेश पर पूरी तरह पाबंदी का विरोध किया। इसकी जगह उन्होंने जांच प्रक्रिया को मजबूत करने की बात कही है। उनसे पहले अटॉर्नी जनरल पद के लिए मनोनीत जेफ सेशंस भी प्रवेश पर पाबंदी का विरोध कर चुके हैं।

चुनाव प्रचार के दौरान ट्रंप ने मुसलमानों के प्रवेश पर पाबंदी की मांग की थी जिस पर काफी विवाद हुआ था। ट्रंप के रूख के उलट सुनवाई के दौरान टिलरसन ने पेरिस जलवायु संधि का भी बचाव किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *