Sunday , July 3 2022 11:15 AM
Home / Lifestyle / मानसून में अपनी सेहत का भी खास ध्यान रखना चाहिए, इस मौसम में आपको अपाचन, एलर्जी, पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

मानसून में अपनी सेहत का भी खास ध्यान रखना चाहिए, इस मौसम में आपको अपाचन, एलर्जी, पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

बदलते मौसम का सबसे पहला असर स्वास्थ्य और त्वचा पर ही पड़ता है। जैसे-जैसे मौसम बदलता है कई सब्जियां और फल स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं। वैसे ही बारिश का मौसम भले ही चिलचिलाती गर्मी से राहत दिलाता हो, लेकिन इस मौसम में आपको अपाचन, एलर्जी, पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। इस मौसम में पाई जाने वाली नमी पाचन क्रिया को कमजोर करती है, जिससे पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। मानसून में अपनी सेहत का भी खास ध्यान रखना चाहिए। तो चलिए आपको बताते हैं कि इस मौसम में आपको क्या खाना चाहिए और क्या नहीं…
स्ट्रीट फूड से करें परहेज : बरसात के मौसम में बाहरी फूड यानी की स्ट्रीट फूड से बिल्कुल परहेज करना चाहिए। इस मौसम में ज्यादा हैवी खाने जैसे गोल-गप्पे, चाट, बर्गर, न्यूडल्स जैसे चीजों से भी दूर रहना चाहिए। इस मौसम में पाचन क्रिया बहुत ही धीमी हो जाती है। जिसके कारण जंक फूड और स्ट्रीट फूड जैसी चीजें आपको ब्लोटिंग, गैस और एसिडिटी जैसी समस्याएं हो सकती हैं।
तली-भूनी चीजों से करें परहेज : इस मौसम में अधिक तले भूने खाने से भी परहेज करना चाहिए। बरसाती मौसम में इन चीजों का सेवन आपके शरीर में प्रवेश करके पित्त बढ़ाता है, जिससे आपको पाचन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए पकौड़े, समोसे या फिर किसी भी तरह की तली भूनी चीजें खाने से बिल्कुल परहेज करें। यह चीजें डायरिया और अपाचन संबंधी समस्याएं भी खड़ी कर सकती हैं।
कच्चे सलाद से करें परहेज : बरसाती मौसम में कच्चे सलाद का सेवन भी नहीं करना चाहिए। सिर्फ सलाद ही नहीं बारिश के मौसम में किसी भी कच्ची सब्जी का सेवन नहीं करना चाहिए। इन सब्जियों में कीड़े होते हैं जो आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते हैं। आपको पाचन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
तरबूज-खरबूज का सेवन न करें : इस मौसम में स्वंय को हाइड्रेट रखना भी आवश्यक है। लेकिन तरबूज-खरबूज जैसे फलों का सेवन नहीं करना चाहिए। इस मौसम में ये फल जल्दी खराब हो जाते हैं, जिसके कारण उनके जहरीले होने का खतरा होता है। इसलिए बरसाती मौसम में इन चीजों का सेवन करने से परहेज करना चाहिए।
हरी पत्तेदार सब्जियों से भी करें परहेज : बरसाती मौसम में हरी पत्तेदार सब्जियां भी नहीं खानी चाहिए। पत्तागोभी, पालक, बंदगोभी और फूलगोभी में धूल, मिट्टी और कीचड़ हो सकता है। इन सब्जियों में बरसाती कीड़े भी पाए जाते हैं। बरसाती मौसम में इन सब्जियों का सेवन करने से आपको कई बीमारियां हो सकती हैं। इसलिए हरे पत्तेदार सब्जियों से परहेज करना चाहिए।
सी फूड से करें परहेज : बरसाती मौसम में समुद्री भोजन यानी सी फूड का सेवन भी नहीं करना चाहिए। इस मौसम में जलजनित रोग और फूड पॉयजनिंग होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए इस दौरान सी फूड और मांस उत्पादों के सेवन से परहेज करना चाहिए। यह आपके शरीर में इंफेक्शन बढ़ा सकते हैं।
आम से करें परहेज : आम भी गर्मियों के मौसम में बहुत ही खाया जाता है, लेकिन इस मौसम में अधिक पानी और शुगर वाले फल आम ,खरबूज, तरबूज खाने से फंगल और बैक्टीरियल इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए आम से भी बरसाती मौसम में परहेज करें।
क्या खाएं : . हल्के पदार्थों का सेवन करें, जो आपको आसानी से पच सकें और आपको किसी भी तरह की पाचन संबंधी समस्या का सामना न करना पड़े।
. कैमामाइल टी, ग्रीन टी, अदरक-नींबू वाली चाय, हर्बल टी का सेवन करें। यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी मदद करेंगे।
. अधिक से अधिक पानी पिएं, ताकि शरीर में मौजूद टॉक्सिन्स पदार्थ बाहर निकल जाएं।
. कच्ची सब्जियों को उबाल कर उनका सेवन करें, इससे आपको किसी भी तरह का पेट में इंफेक्शन नहीं होगा।
. करेले, लोकी, कद्दू, मेथी जैसी चीजें अपनी डाइट में शामिल करें, इनसे आपकी पाचन क्रिया मजबूती होगी और यह सब्जियां आपकी इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करेंगी।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This