Thursday , February 9 2023 3:57 AM
Home / News / बांग्लादेश में हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ : बतौर प्रधानमंत्री सलाहकार

बांग्लादेश में हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ : बतौर प्रधानमंत्री सलाहकार

5616ढाका. बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना के एडवाइजर ने शुक्रवार को हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान का हाथ होने का शक जताया है। हुसैन तौफीक इमाम ने कहा- हमला करने वाले लोकल थे। उन लोगों ने इंडियन स्टूडेंट तारिषि जैन समेत बाकी विदेशियों की जिस तरह हत्या की, उससे लगता है कि ये जमात-उल-मुजाहिदीन की करतूत है, और जमात को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई मदद करती है।

काफी पढ़े लिखे थे आतंकी…

– एक चैनल से बातचीत में इमाम ने कहा कि जमात-उल-मुजाहिदीन के आईएसआई से रिश्ते छुपे नहीं हैं। इस कट्टरपंथी संगठन को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी से मदद मिलती रही है।
– बांग्लादेश के होम मिनिस्टर असदुज्जमान खान ने न्यूज एजेंसी एएफपी से कहा- सारे हमलावर वेल एजुकेडेट और अमीर घरानों के थे।
– खान के मुताबिक, ये बांग्लादेश की इमेज खराब करने की साजिश है।

पुलिस ने क्या कहा?

– एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रेस्त्रां पर हमला करने वाले आतंकियों की संख्या सात थी। कुछ खबरों में इसे 9 बताया गया है। 6 आतंकी मारे गए थे। बताया जाता है कि एक आतंकी आखिरी वक्त पर भागने में कामयाब रहा।

– बांग्लादेश के पुलिस चीफ शाहिद-उल- हक ने शनिवार देर रात कहा- सभी आतंकी बांग्लादेशी ही थे। 7 में से पांच के बारे में हमें जानकारी थी। इनकी तलाश की जा रही थी लेकिन इसके पहले ही यह अटैक हो गया।

आईएस के दावे पर चुप्पी

– ढाका आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट और अल कायदा, दोनों ने ली थी। लेकिन पुलिस इस बारे में कुछ नहीं कह रही है।

– सूत्रों के मुताबिक, जांच इस बात की हो रही है कि कहीं ये लोकल एक्सट्रीमिस्ट का काम तो नहीं था? इस मामले में शक इसलिए भी हो जाता है क्योंकि आतंकियों के पास जो हथियार थे वो बहुत अच्छे या नई टेक्नोलॉजी वाले नहीं थे।

– बांग्लादेश सरकार और सिक्युरिटी एजेंसीज के लिए ये हमला कई सवाल खड़े कर रहा है।
– दरअसल, यहां पिछले 18 महीने के दौरान माइनोरिटीज और लिबरल सोच वाले लोगों पर कई हमले हुए। एजेंसियों और सरकार ने हर हमले के बाद कहा कि ये लोकल ग्रुप्स का काम है।
– इनके सामने नई दिक्कत ये है कि इतना बड़ा हमला होने के बाद भी क्या आईएस की मौजूदगी को नकारा जा सकता है? इन दोनों पर विदेशी दबाव भी बढ़ सकता है।
इटैलियन मीडिया ने क्या कहा?

– इटैलियन मीडिया के मुताबिक, उनके देश के जो लोग इस हमले में मारे गए हैं, वो सभी गार्मेंट इंडस्ट्री से जुड़े थे।
– बांग्लादेश मे कपड़ा कारोबार करीब 26 बिलियन डॉलर का है। इसका 80 फीसदी एक्सपोर्ट किया जाता है। इसमें भी इटली और भारत के लोगों का एक बहुत बड़ा शेयर है।
– हमले के बाद इटली सरकार इस इंडस्ट्री और वहां अपने लोगों को लेकर कोई बड़ा फैसला ले सकती है।

रेस्त्रां की बेकरी में घुसे थे आतंकी

– शुक्रवार रात यहां के पॉश इलाके गुलशन डिप्लोमेटिक जोन की एक बेकरी में 9 आतंकियों ने हमला किया था।
– उन्होंने 40 लोगों को बंधक बना लिया। इनमें से ज्यादातर विदेशी थे।
– बाद में 20 लोगों को मार दिया गया। दो पुलिस वाले भी मारे गए।
– शनिवार को कमांडो ऑपरेशन 6 आतंकी मारे गए। एक आतंकी को पकड़ लिया गया। 18 होस्टेज छुड़ाए गए।

– रेस्क्यू किए गए हसनत करीम के मुताबिक, आतंकियों ने होस्टेज से कुरान की आयतें सुनाने को कहा था। जिन्हें याद थीं, उन लोगों से अच्छा बिहेव किया गया। उन्हें छोड़ दिया गया।

 

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This