Saturday , October 24 2020 6:46 PM
Home / News / India / अगर कश्मीरी भारत में खुश तो वहीं रहें : पाकिस्तान के भारतीय उच्चायुक्त अब्दुल बासित

अगर कश्मीरी भारत में खुश तो वहीं रहें : पाकिस्तान के भारतीय उच्चायुक्त अब्दुल बासित

 

downloadनई दिल्ली. भारत में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित का कहना है, ”जंग कोई हल नहीं है। कश्मीरियों को फ्यूचर चुनने का मौका दो। अगर वो भारत में खुश हैं तो उन्हें वहीं रहने दो।” इस बीच, नरेंद्र मोदी की वॉर्निंग पर पाकिस्तान भड़क गया है। इस्लामाबाद में पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने मोदी के इस बयान को गलत बताया है कि पाकिस्तान आतंकवाद का एक्सपोर्टर है। बासित ने कहा- हमें आतंकी मुल्क कहना जुमलेबाजी…

– कोलकाता के अखबार ‘टेलीग्राफ’ को दिए इंटरव्यू में उड़ी आतंकी हमले के बारे में बासित ने कहा, ”मैं बताना चाहता हूं कि पाकिस्तान का इस हमले से कोई लेना-देना नहीं है।”

– भारत की ओर से पाकिस्तान को आतंकवादी मुल्क कहे जाने पर बासित ने कहा- ‘वह महज जुमलेबाजी है। हम भी ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन उससे कोई मकसद हल नहीं होता। दो देशों के रिश्ते जुमलेबाजी से नहीं चलते।”
आग उगलते बयानों से तय नहीं होती पॉलिसी
– पाकिस्तान हाफिज सईद और सैयद सलाउद्दीन को भारत के खिलाफ जहर उगलने की इजाजत क्यों देता है? इस पर बासित ने कहा, ”ऐसी आवाजें भारत में भी उठती हैं, लेकिन पाकिस्तान या भारत की पॉलिसी लोगों के आग उगलते भाषणों से नहीं तय होतीं।”

उड़ी का बदला लिए जाने पर क्या कहा?
– भारत ने उड़ी हमले का बदला ले लिया है। ऐसी खबर सोशल मीडिया पर हैं कि इंडियन आर्मी ने सीमा पार कर आतंकी कैम्प्स को तबाह किया है। इस पर बासित ने कहा, ”इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। पाकिस्तान अपनी हिफाजत करने में काबिल है। मुझे नहीं लगता कि चीजें इस हद तक बढ़ेंगी।’’

क्या कहा पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने

– पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने रविवार को जारी बयान में कहा- भारत कश्मीर के निहत्थे लोगों पर जुल्म कर रहा है। महिलाओं और बच्चों को भी बख्शा नहीं जा रहा है।
– बयान के मुताबिक, जुलाई में कश्मीरी यूथ लीडर बुरहान वानी की हत्या के बाद जब वहां के लोगों ने आवाज उठाई तो जुल्म बढ़ गए। पिछले 75 दिनों में कश्मीर के करीब 100 लोग शहीद हुए, कई ने आंखें गंवा दी और हजारों जख्मी हुए।
– पाक ने कहा कि ये बदकिस्मती की बात है कि इतने जुल्मों के बाद भी भारतीय नेता पाकिस्तान को बदनाम करने की और कश्मीर से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं। हमें अफसोस है कि ये सब टॉप लेवल से किया जा रहा है।
– बयान के मुताबिक, “दुनिया के कई देश कश्मीर में हो रहे ह्यूमन राइट्स वॉयलेशन पर नजर रख रहे हैं। हम मांग करते हैं कि कश्मीर में स्वतंत्र जांच दल और फैक्ट फाइंडिंग मिशन भेजे जाएं।”
– पाकिस्तान ने भारत पर आतंकवाद को बढ़ावा देने के भी आरोप लगाए हैं। कहा कि इंडियन नेवी के सर्विंग ऑफिसर कुलभूषण यादव की गिरफ्तारी से साफ हो जाता है कि भारत हमारे देश में आतंकवाद फैला रहा है।

 

About indianz xpress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pin It on Pinterest

Share This