Saturday , April 20 2024 7:57 PM
Home / News / अमेरिका- चीन के बीच शब्दों की तलवारें खींची

अमेरिका- चीन के बीच शब्दों की तलवारें खींची

US-warns-to-china-on-air-defence-zone-issue-in-south-china-seaउलानबटोर। अमेरिका के विदेश मंत्री जॉन केरी ने आज चीन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उसने दक्षिणी चीन सागर में किसी भी प्रकार के हवाई सुरक्षा क्षेत्र बनाया तो उसके इस कदम को भडक़ाऊ और अस्थिरता लाने वाला माना जाएगा। इससे  दोनों  देशों के बीच तनाव बढ़  गया है |

जबाब में चीन के सेना प्रमुख ने कहा कि , अमेरिका का इस  सन्दर्भ में हस्तक्षेप चीन को मंजूर नहीं हैं | उसका कहना है की चीन धमकी देता नहीं है लेकिन धमकियों से डरता भी नहीं है |
दक्षिण चीन सागर पर चीन के दावे के खिलाफ फिलीपींस ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में शिकायत की थी। अमेरिका का मानना है कि इस मामले पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के आगामी सप्ताह आने वाले फैसले के बाद चीन दक्षिण चीन सागर में हवाई सुरक्षा क्षेत्र घोषित कर देगा जैसा उसने 2013 में पूर्वी चीन सागर में भी किया था।
श्री केरी ने मंगोलिया यात्रा के दौरान कहा दक्षिणी चीन सागर में चीन द्वारा हवाई सुरक्षा क्षेत्र बनाये जाने का कदम भडक़ाऊ और अस्थिर करने वाला माना जएगा और इससे तनाव खुद ब खुद बढ़ेगा। दक्षिणी चीन सागर के क्षेत्रीय विवाद को कूटनीति के जरिये हल करने की चीन की प्रतिबद्धता पर यह गंभीर सवाल है। हम इस कारण से चीन से आग्रह करते हैं कि वह एकतरफा और उकसावे वाली राजनीति न करे।
श्री केरी मंगोलिया के बाद चीन की यात्रा पर जाने वाले हैं।
पूर्वी चीन सागर में जब चीन से हवाई सुक्ष्रर क्षेत्र की घोषणा की थी तब जापान और अमेरिका ने इसकी कड़ी भनदा की थी। हवाई सुरक्षा क्षेत्र घोषित करने पर उस इलाके में आने वाले हर विमान को पहले चीन को अपनी पहचान बतानी पड़ती है।
चीन ने दक्षिणी चीन सागर में हवाई सुरक्षा क्षेत्र बनाये जाने के किसी भी कदम की न ही पुष्टि की है और न ही इनकार किया है। चीन ने कहा है कि खतरे के आधार पर वहां हवाई सुरक्षा क्षेत्र बनाये जाने का फैसला लिया जायेगा और उसे ऐसा करने का पूरा अधिकार है।
गौरतलब है कि दक्षिणी चीन सागर से हर साल खरबों डॉलर के माल लेकर जहाज गुजरते हैं और इस कारण इस पर कई देश अपना मालिकाना हक जताते हैं। यह एक विवादित क्षेत्र है और इस पर ब्रुनेई,मलेशिया,फिलीपींस,ताइवान और वियतनाम भी अपना दावा पेश करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *