Thursday , February 9 2023 3:26 AM
Home / News / भारतीय पहलवान योगेश्वर को लन्दन ओलिंपिक में मिला कांस्य अब रजत की जगह स्वर्ण में

भारतीय पहलवान योगेश्वर को लन्दन ओलिंपिक में मिला कांस्य अब रजत की जगह स्वर्ण में

 

rio_1_1472829107सोनीपत. लंदन ओलिंपिक 2012 में ब्रॉन्ज जीतने वाले रेसलर योगेश्वर दत्त के मेडल का कलर अब गोल्ड में बदल सकता है। ओलिंपिक के 60 kg इवेंट में गोल्ड जीतने वाले अजरबैजान के रेसलर तोघरुल असगारोव डोप टेस्ट में फेल हो गए हैं। बता दें कि इससे पहले योगेश्वर का ब्रॉन्ज सिल्वर में बदला था क्योंकि इस इवेंट के सिल्वर विनर रूस के रेसलर बेसिक कुदुखोव को भी वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) ने पॉजिटिव पाया था। हालांकि योगेश्वर ने मानवीय आधार पर ब्रॉन्ज को सिल्वर मेडल में बदलने पर नाखुशी जताई थी। कुदुखोव की 2013 में कार एक्सीडेंट में मौत हो गई थी। योगेश्वर ने सिल्वर मेडल को कुदुखोव की फैमिली के पास ही रहने की अपील की थी।

 

योगेश्वर के सैंपल का दोबारा टेस्‍ट होना अभी बाकी…
– मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी 2012 के लंदन ओलंपिक और 2008 के बीजिंग ओलिंपिक के सैंपल्स की नई टेक्नीक से दोबारा जांच करा रही है।
– इसी दौरान वर्ल्‍ड एंटी डोपिंग एजेंसी (वाडा) ने असगारोव का सैंपल पॉजिटिव पाया है। हालांकि एजेंसी ने इसकी जानकारी अभी तक यूनाइटेड वर्ल्‍ड रेसलिंग के साथ शेयर नहीं की है।
– योगेश्‍वर दत्‍त ने लंदन ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। इनके सैंपल का दोबारा टेस्‍ट होना अभी बाकी है।
– रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) ने हालांकि योगेश्‍वर को गोल्‍ड मिलने की खबर की जानकारी होने से इनकार किया है।

तो गोल्ड जीतने वाले दूसरे प्लेयर होंगेyogeshwar-dutts-bronze-in
– अगर योगेश्वर दत्त का ब्रॉन्ज मेडल गोल्ड में बदलता है तो वह ओलिंपिक में निजी तौर पर गोल्ड मेडल जीतने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी बन सकते हैं।

– इससे पहले अभिनव बिंद्रा ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

योगेश्वर ने रेपचेज राउंड में जीता था ब्रॉन्ज
– 2012 के लंदन ओलिंपिक में 60 किलोग्राम वर्ग में ब्रॉन्ज मेडल के लिए हुए मुकाबले में योगेश्वर दत्त ने उत्तर कोरिया के री जोंग मयूंग को हराया था।
– प्री-क्वार्टर फाइनल में योगेश्वर दत्त रूसी पहलवान कुदुखोव से हार गए थे।
– कुदुखोव के फाइनल में पहुंचने के कारण भारतीय पहलवान को रेपेचेज के जरिए एक और मौका मिला था। फिर योगेश्वर ने रेपचेज राउंड के जरिए ब्रॉन्ज मेडल जीता।
– बता दें कि रेपेचेज 2 फाइनलिस्ट से राउंड-16, क्वार्टर और सेमीफाइनल में हारे रेसलर्स को ब्रॉन्ज जीतने का मौका देता है।
– दोनों फाइनलिस्ट से हारे रेसलर्स के बीच मुकाबले के बाद दो विनर्स को ब्रॉन्ज दिया जाता है।

मेडल अपग्रेड होने पर पहले जताई थी खुशी
– इससे पहले योगेश्वर दत्त ने लंदन ओलिंपिक का ब्रॉन्ज मेडल अपग्रेड होकर सिल्वर होने पर खुशी जताई थी।
– सोमवार को ट्वीट कर योगेश्वर ने कहा था, ” आज सुबह पता चला कि मेरा ओलिंपिक मेडल अपग्रेड होकर सिल्वर मेडल हो गया है। ये मेडल भी देशवासियों को समर्पित।”
– 2012 ओलंपिक का सिल्वर मेडल मिलते ही योगेश्वर दत्त यह मेडल पाने वाले दूसरे पहलवान हो गए।
– 2012 ओलंपिक में सुशील कुमार ने 66 किलोग्राम वर्ग में कुश्ती का सिल्वर मेडल जीता था।

रियो से खाली हाथ लौटे थे योगेश्वर
– रियो ओलंपिक 2016 में 65 किलोग्राम फ्री-स्टाइल कुश्ती में खेलते हुए योगेश्वर दत्त फर्स्ट राउंड में ही बाहर हो गए थे।
– योगेश्वर को मंगोलिया के पहलवान मन्दाखनारन गैंजोरिग ने 3-0 से हराया था।
– मन्दाखनारन के अपने मैच में हार जाने के कारण योगेश्वर को रेपचेज में भी खेलने का मौका नहीं मिला और उन्हें बिना मेडल ही वापस देश लौटना पड़ा।

 

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This