Sunday , October 25 2020 12:18 AM
Home / News / हिलेरी किसे बनाएंगी उप राष्ट्रपति ?

हिलेरी किसे बनाएंगी उप राष्ट्रपति ?

hilary09-ll
जीत के साथ लगातार आगे बढ़ रहीं डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के बारे में माना जा रहा है कि वे अपने विजयी अभियान को जारी रखते हुए राष्ट्रपति पद तक पहुंच जाएंगी। जाने माने अखबार द टेलिग्राफ की वेबसाइट के साभार से हमें इस संबंध में जानकारी हासिल हुई है। इसके मुताबिक हिलेरी क्लिंटन इसी उधेड़ बुन में हैं कि उनके प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रंप द्वारा दी जा रही चुनौतियों का सामना करने के लिए कौन उप राष्ट्रपति के रूप में उनका साथ देगा। इसके लिए उनके सहयोगी कई लोगों से बातचीत भी कर रहे हैं। स्वयं हिलेरी का कहना है कि उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता उस उम्मीदवार को होगी जो उनके कहते ही तुरंत काम में जुट जाए।

इस सिलसिले में कुछ नाम उभर कर सामने आएं हैं। उम्मीद की जा रही है कि जुलाई के मध्य में इनमें से किसी एक की घोषणा कर दी जाएगी। इस बारे में हिलेरी के कुछ पसंदीदा लोगों की संक्षिप्त जानकारी दी जा रही है। इनमें पहले स्थान पर हैं वर्जीनिया के सीनेटर टिम कैनी। सामाजिक और राजनीतिक तौर पर इन्हें सम्मान प्राप्त है, बहुत अनुभवी हैं और स्पेनिश भाषा बोलते हैं। वे बराक ओबामा द्वारा बनाई गई सूची में भी थे और हिलेरी के साथ उनके घनिष्ठ संबंध हैं। चुनाव के बदलते स्वरूप को समझते हैं, लेकिन सुरक्षित होने के बावजूद प्रेरक नहीं माने जा सकते। फिर भी उनकी संभावना बनती है।

दूसरे स्थान पर हैं मैस्साचुएस्ट्स की सीनेटर एलिजाबेथ वारेन। पार्टी में वह ट्रंप की सबसे प्रभावी विरोधी मानी जाती हैं। यहां वोटरों में उनकी जड़ें काफी गहरी हैं और प्रगतिशील विचारों वाली हैं। अंतर यह है कि क्लिंटन की जो नीतियां और काम करने का तरीका हे उसमें वह भिन्न हैं। सहयोगी के रूप में उन्हें किसी लेबल की जरुरत नहीं। यदि वह चुनी जाती हैं तो उन्हें सीनेट में अपनी सीट गवांनी होगी। वैसे उनकी मजबूत संभावना बनती है।

तीसरे स्थान पर हैं जूलियन कास्त्रो, जोकि हाउसिंग और अर्बन डेवलपमेंट के सचिव हैं। पहले दो संभावितों से वह युवा हैं। व्यक्तित्व में उनका अपना आकर्षण हैं और पार्टी के उभरते सितारे हैं। मैक्सिको के मूल निवासी होने के नाते वह लैटिन अमरीकी वोटरों का समर्थन दिलाने में सहायक साबित होंगे। कमी यह है कि इन्हें अनुभव बहुत कम है और राष्ट्रीय स्तर पर उन्हें आजमाया नहीं गया है। धारा प्रवाह में स्पेनिश बोलने में भी उनकी पकड़ कमजोर है। इसके बावजूद वे संभावितों में हैं।

चौथे स्थान पर हैं ओहियो के सीनेटर शेररॉड ब्राउन। निर्णायक क्षेत्र से संबंध रखते हैं, श्रमिकों के शुभचिंतक हैं और अनुभवशाली भी। पार्टी का वाम पक्ष उनका सम्मान करता है। वह श्रमिकों और श्वेत लोगों के वोट दिलाने में सहायक साबित होंगे। यदि वह उप राष्ट्रपति पद के लिए चुने जाते हैं तो वारेन की तरह उन्हें भी सीनेट में अपनी सीट गवांनी पड़ेगी।

पांचवें स्थान पर हैं न्यू जर्सी के सीनेटर कोरी बुकर। माना जाता है कि वे उपहार के रूप में हिलेरी के चुनाव अभियान को प्राप्त हुए हैं। सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में लोग उनके संपर्क में हैं। वह श्वेत और अश्वेत वोटरों को एक मंच पर लाकर हिलेरी की सहायता कर सकते हैं। बुकर शुरू से ही क्लिंटन का समर्थन कर रहे हैं। उनकी खासियत यह है कि वे सामाजिक तौर प्रगतिशील हैं, डेमोक्रेटिक राज्य से हैं। लेकिन उनकी अपील से सीमित संख्या में वोटरों के रुख में बदलाव लाया जा सकता है। उनके बारे में सोचा जा सकता है।

छठे स्थान पर हैं कैलिफोर्निया से प्रतिनिधि जेवियर बेकेर्रा। अंग्रेजी और स्पेनिश के स्पष्ट वक्ता। वे काफी सक्रिय हैं और हिलेरी क्लिंटन के साथ लंबे समय तक प्रतिनिधि के रूप मे काम कर सकते हैं। इनके बारे में भी विचार किया जा सकता है।

सातवें स्थान पर हैं टॉम प्रेज, जो श्रम विभाग के सचिव हैं। वे लैटिन अमरीकी हैं और मानो एक उपहार के रूप में प्राप्त वक्ता हों। अधिकतर यूनियन के चहेते और वाम पक्ष के साथ उनके काफी मजबूत और सद्भावपूर्ण संबंध हैं। क्लिंटन के साथ भी प्रेज के अच्छे मैत्री संबंध हैं। यही खामी है कि उन्हें चुनाव कार्यालय से संबंधित अनुभव बहुत कम है और ज्यादा पहचान भी नहीं बना पाए।

आठवें नंबर पर ऐसे शख्स हैं जिन्हें सुनने के लिए बड़ी संख्या में भीड़ जुट जाती हैं वे हैं वरमाउंट के सीनेटर बर्नी सैंडर्स। प्राइमरी चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के जो वोट विभाजित हो गए थे उन्हें वे एकजुट कर सकते हैं। चंदा देने वालों से भी उनका बेहतर संपर्क है। हिलेरी और सैंडर्स के खेमे में कोई दुश्मनी नहीं है, न ही सैंडर्स को गंभीर प्रतियोगी माना गया है। मगर उप राष्ट्रपति पद के लिए विचाराधीन नहीं हैं।

नौंवे स्थान पर हैं अमरीका के वर्तमान उप राष्ट्रपति जोए बिडेन। काफी प्रसिद्ध और जाना पहचाना नाम है। हिलेरी अपना प्रशासन चलाना चाहती हैं, ओबामा का नहीं। इस बीच, बिडेन के उनके नेतृत्व में काम करना नहीं चाहेंगे। इसलिए उनके बारे में विचार नहीं किया जा सकता।
अन्य लोगों की संभावनाओं में हिलेरी क्लिंटन कह चुकी हैं कि वह इस पद के लिए किसी महिला के नाम पर भी विचार करेंगी। इसके लिए एमी क्लोबाउचर या क्रिस्टन गिलब्रेंड के नाम का संकेत दिया जा रहा है, दोनों सम्मानित सीनेटर हैं। मार्क वरनर और ईवान बेह जैसे लोग ओबामा की सूची के अनुभवी सहयोगी हैं। इनमें कुछ सीनेटर हैं और कुछ इस पद पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। ये कड़ी चुनौती मिलने वाले राज्यों से हैं और सुरक्षित वर्ग में इन्हें रखा गया है। इन्हीें में से एक हैं केन सालाजार, जोकि लैटिन अमरीकी हैं। इनका मजबूत परिचय है और बाजी पलटने वाले राज्य से संबंधित हें। कॉमेडियन से सीनेटर बने अल फ्रानकेन के बारे में माना जाता है कि वह चुनाव अभियान को प्रभावशाली तरीके से खींच सकते हैं।

About indianz xpress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pin It on Pinterest

Share This