Sunday , June 23 2024 10:57 PM
Home / News / हिरोशिमा जाने वाले ओबामा पहले अमरीकी राष्ट्रपती, नहीं मांगी माफी

हिरोशिमा जाने वाले ओबामा पहले अमरीकी राष्ट्रपती, नहीं मांगी माफी

obama_1464352496हिरोशिमा पीस मेमोरियल म्यूजियम में न्यूक्लियर अटैक के विक्टिम्स को श्रद्धांजलि देते ओबामा।
– ओबामा यहां जी-7 शिखर सम्मेलन के बाद हिरोशिमा से करीब 40 किलोमीटर दूर स्थित इवाकुनी अमेरिकी आर्मी बेस पहुंचे।
– उन्होंने कहा, “आग की दीवार ने एक शहर को तबाह कर दिया और दिखा दिया कि इंसानों के पास अपने ही खात्मे के हथियार हैं।”
– ओबामा के बयानों में इन दोनों परमाणु बम हमलों के लिए दुख और पछतावा दिखा, लेकिन उन्होंने इनके लिए माफी नहीं मांगी।
– ओबामा ने म्यूजियम की विजिटर बुक में लिखा, ‘उम्मीद करता हूं कि दुनिया को मिलकर शांति फैलाने और न्यूक्लियर वीपन्स से आजाद एक दुनिया तलाशने की हिम्मत मिलेगी।’
– बता दें कि अमेरिका के एक्स प्रेसिडेंट जिमी कार्टर (1977-1981) अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद मई 1984 को हिरोशिमा आए थे।
– माना जा रहा है कि ओबामा हिरोशिमा अटैक में बचे लोगों में कुछ से मुलाकात कर सकते हैं। यह वे लोग हैं जो न्यूक्लियर अटैक के समय बच्चे थे।
हिरोशिमा में मारे गए थे एक लाख 40 हजार लोग
– हिरोशिमा वह जगह है, जहां सेकंड वर्ल्ड वॉर के दौरान अमेरिका ने छह अगस्त 1945 को दुनिया का पहला न्यूक्लियर बम गिराया गया था।
– इसमें 1,40,000 से ज्यादा लोग मारे गए थे। इसके दो दिन बाद जापान के नागासाकी शहर पर अमेरिका ने दूसरा न्यूक्लियर बम गिराया था, इसमें 74,000 लोग मारे गए थे।
उम्मीद नहीं थी कि ओबामा यहां आएंगे
– परमाणु बम हमले में बचे सुनाओ सुबोई ने कहा, “मैंने कभी सोचा नहीं था कि वह (ओबामा) मेरे जिंदा रहते यहां आएंगे।”
– उन्होंने कहा, “हमें माफी की जरूरत नहीं है। मुझे उम्मीद है कि वह (ओबामा) हिरोशिमा में ऐसी बात करेंगे जो ह्यूमैनिटी के लिए अच्छी होगी।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *