Sunday , April 21 2024 10:00 AM
Home / News / रियो ओलंपिक्स की सबसे कम उम्र की एथेलीट नेपाल की गौरिका सिंह, भूकंप में बाल-बाल बची थी जान

रियो ओलंपिक्स की सबसे कम उम्र की एथेलीट नेपाल की गौरिका सिंह, भूकंप में बाल-बाल बची थी जान

 

l_22-14701581425 अगस्त से शुरू हो रहे रियो ओलंपिक में नेपाल की गौरिका सिंह सबसे कम उम्र की एथलीट हैं। पिछले साल नेपाल में आए भूकंप में 13 साल की गौरिका बाल-बाल बच गई थीं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, नेपाल में जन्मी गौरिका केवल दो साल की उम्र में ही लंदन चली गई थीं।

पहली बार ओलंपिक में हिस्सा ले रही गौरिका तैराकी में 100 मीटर की ‘बैकस्ट्रोक प्रीलिमिनरी’ स्पर्धा में हिस्सा लेंगी। उन्होंने हाल ही में हर्थफोर्डशिरे में अपने स्कूल से जिला स्तर की स्थानीय चैंपियनशिप पूरी की है। अप्रैल 2015 में गौरिका राष्ट्रीय चैंपियनशिप के लिए अपनी मां गरिमा और छोटे भाई सौरीन के साथ नेपाल आई थीं और इसी दौरान देश में विनाशकारी भूकंप आ गया।

गौरिका ने बताया, “वह काफी डरावना था। हम काठमांडू में एक इमारत की पांचवी मंजिल पर थे और भूकंप के समय भाग भी नहीं सकते थे, इसलिए हम 10 मिनट के लिए कमरे के बीच रखे एक टेबल के नीचे बैठ गए।” हालांकि नई इमारत होने की वजह से यह गिरी नहीं।

गौरिका ने नेपाल चैंपियशिप प्रतियोगिताओं में 11 वर्ष की उम्र से ही हिस्सा लेना शुरू कर दिया था। उन्होंने सात राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी तोड़े हैं। जब उन्हें एक महीने पहले पता चला कि वे रियो ओलंपिक का हिस्सा होंगी तो हैरान रह गई। गौरिका के पिता पारस का मानना है कि उनकी बेटी सफलता की हकदार है, क्योंकि वह अपने लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *