Sunday , June 13 2021 2:59 PM
Home / Business & Tech / तीन मल्टी नेशनल कंपनी जल्द शीर्षासन करेंगी : बाबा रामदेव

तीन मल्टी नेशनल कंपनी जल्द शीर्षासन करेंगी : बाबा रामदेव

download (8)

नयी दिल्ली : योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि पतंजलि अपने स्वदेशी उत्पादों के जरिये जल्द की तीन मल्टीनेशनल कंपनियों का शीर्षासन करा देगी. बाबा रामदेव ने दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि चार साल में पतंजलि का कारोबार 1100 प्रतिशत बढ़ा है. उन्होंने कहा कि 2015-2016 में यह पांच हजार करोड़ रहने का अनुमान है, जबकि अगले वित्तीय वर्ष में यह दोगुना होकर 10 हजार करोड़ रुपये से अधिक का हो जायेगा.
उन्होंने कहा कि आज पतंजलि की हर ओर चर्चा है. इसकी उपलब्धि पर मैनेजमेंट के लोग चर्चा व अध्ययन करते हैं. उन्होंने कहा कि लोगों को आश्चर्य है कि दो अल्हड़ फकीरों ने पतंजलि को यहां तक पहुंचा दिया है. उन्होंने कहा कि हम अश्लील विज्ञापन नहीं तैयार करते और न ही महंगे विज्ञापन पर हमारा खर्च आता है. उन्होंने कहा आचार्य बालकृष्ण भी अपने काम का पैसा नहीं लेते हैं और मैं पतंजलि का बिना पैसों का ब्रांड अंबेसेडर हूं.
बाबा रामदेव ने कहा कि पतंजलि अभी 1000 टन उत्पाद किसानों से सीधे खरीदती है, जिसमें आंवला, गेहूं सहित कई उत्पाद हैं. उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य प्रतिदिन किसानों से 10 हजार टन कृषि उत्पाद खरीदने का है.
उन्होंने कहा कि हम कैमिकल रहित सरसों तेल व टूथ पेस्ट उपलब्ध करा रहे हैं. बाबा रामेदव ने कहा कि 42.5 करोड़ रुपये का हमारा पतंजलि दंतकांति ब्रांड है. उन्होंने कहा कि अभी देश में नौ करोड़ देसी गायें हैं, जबकि चार करोड़ संकर नस्ल की गायें हैं. उन्होंने कहा कि हम उस विधि पर काम कर रहे हैं कि तीन से पांच किलो दूध देने वाली गायें प्रति दिन 25 से 50 किलो दूध दें. बाबा ने कहा कि हम लोगों को शुद्ध घी उपलब्ध करा रहे हैं. उन्होंने कहा कि घी खाने कोलेस्ट्राल नहीं होता है और न ही बीमारियां होती हैं. बल्कि रिफाइल खाने से कोलेस्ट्राल व बीमारियां होती हैं. बाबा ने कहा कि मैं महीने में पांच से सात किलो खाया हूं और मुझे कोई कोलेस्ट्राल नहीं है और मेरा हिमोग्लोबीन लेवल 17 है.

उन्होंने कहा कि बाजार में 122 से 132 रुपये में मिलने वाला शहद हम 70 रुपये में उपलब्ध करा रहे हैं. उन्होंने कहा हमारा प्रोफिट चैरिटी के लिए है. बाबा रामदेव ने कहा कि हमने 10 करोड़ रुपये जनकल्याण के लिए दूसरे संस्थानों को दिया. उन्होंने कहा कि हमने 100 करोड़ की लागत से शोध संस्थान भी बनवाया. उन्होंने कहा कि जेएनयू व एनआइटी जैसी घटनाएं विचारों व नीतियों के संकट के कारण हो रही हैं. उन्होंने कहा कि हम झूठे दावे कर अपने ब्यूटी प्रोडक्ट नहीं बेचते हैं कि लगाओगे तो गोरे हो जाओगे और पहले से गोरे आदमी को विज्ञापन में नहीं दिखाते. बाबा रामदेव ने पतंजलि की सफलता का कारण सात्विक विचार को बताया.

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This