Wednesday , October 21 2020 11:57 PM
Home / News / चीन अपने तीन लाख सैनिकों की करेगा छंटनी, अमेरिका की तर्ज पर सेना होगी हाईटैक

चीन अपने तीन लाख सैनिकों की करेगा छंटनी, अमेरिका की तर्ज पर सेना होगी हाईटैक

8
बीजिंग : चीनी सेना सोवियत शैली की भारी भरकम सेना को हटाने वाली है और शीघ्र तैनाती के लिए इसने अमेरिकी शैली का सैन्य बल रखने का विकल्प चुना है। साथ ही, दुनिया की सबसे बड़ी सेना के पुनर्गठन के तहत तीन लाख कर्मियों की छंटनी करने की योजना है। हांगकांग स्थित साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक नौसेना और वायुसेना के साथ पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) में 23 लाख कर्मीं हैं जो दुनिया में सबसे बड़ा है।

इसे कहीं अधिक चुस्त दुरुस्त लड़ाकू बल बनाने की कोशिश के तहत यह अपनी आर्मी कोरों को चरणबद्ध तरीके से हटाएगा। इस कदम का भारत-चीन सीमाओं पर सैन्य तैनाती पर भी असर पड़ेगा। पीएलए के अब अपनी 18 वीं आर्मी कोर को 25 से 30 डिवीजनों में तब्दील करने की योजना है। एक कोर का आकार 30,000 से एक लाख सैनिकों का होता है। बीजिंग स्थित एक सेवानिवृत्त कर्नल ने बताया कि मौजूदा प्रणाली सोवियत संघ वाली है लेकिन यह बहुत भारी भरकम है और आधुनिक युद्ध कला के लिए अब यह उपयुक्त नहीं रह गई है।

उन्होंने बताया कि यहां तक कि रूसी सेना ने भी अपने सैनिकों को कम करने की कोशिश कर अमेरिकी सेना सेना से सीख ली है और इस तरह जमीनी सेना को अधिक चुस्त दुरुस्त और तीव्र प्रतिक्रिया वाला बनाया है। उन्होंने बताया कि यूएस 101 एयरबोर्न डिवीजन की शैली सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है जिसका पीएलए अध्ययन करेगा। राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्वारा सेना का आमूल चूल सुधार किए जाने की कोशिश शुरू किए जाने के तहत पीएलए ने चार जनरल मुख्यालयों को भंग कर दिया और संयुक्त बल के मुख्यालयों सहित 15 नए संगठन स्थापित किए। साथ ही, शी ने अगले साल तक तीन लाख सैनिकों की कटौती करने का प्रस्ताव किया है।

About indianz xpress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pin It on Pinterest

Share This