Friday , June 21 2024 4:01 PM
Home / News / मुसीबतों से बचने के लिए जापान अपना रहा ये उपाय

मुसीबतों से बचने के लिए जापान अपना रहा ये उपाय

3a
टोक्‍यो: प्राचिन काल से ही यज्ञ के महत्‍व से सारी दुनिया वाकिफ हैं ।सभी जानते हैं कि इससे निकलने वाला धुंआ वातावरण को शुद्ध और पवित्र और कई बीमारियों का नाश करता है वहीं सकारात्‍मकता भी आती है।लेकिन एेसा नजारा इस बार जापान में देखने को मिला जहां भारतीय पंडित 9 दिनों तक लगातार चलने वाला यज्ञ कर रहे हैं।

जापान में करवाए जा रहे यज्ञ का मुख्य उद्देश्‍य भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं को कम करने के अलावा बीमारियों से मुक्ति है।तीन चरणों में चलने वाले इस यज्ञ के पहले चरण में सुदर्शन महायज्ञ होगा, फिर शतचंडी और आखिर में रूद्र महायज्ञ होगा। यह 108 कुंडीय महायज्ञ है जो 9 दिनों तक लगातार चलेगा।

मीडिया से बातचीत के दौरान पंडित श्‍यामलेश कुमार तिवारी ने बताया कि कुल 131 पंडित इस यज्ञ को करने के लिए बुलाए गए हैं और उनके साथ भारत से कुक और मददगारों को बुलाया गया है जिसके चलते यह संख्‍या 150 तक पहुंच गई है।तीन महत्‍वपूर्ण उद्देश्‍यों से ये यज्ञ करवाया जा रहा हैं। पहला भूकंप से मुक्ति, दूसरा आत्‍महत्‍या के विचारों को कम करना और तीसरा मानसिक बीमारियों को दूर करना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *