Tuesday , August 9 2022 2:37 PM
Home / Lifestyle / शायद कभी ना करें शादी : पिता के साथ खराब हुआ रिश्‍ता, तो बिगड़ सकता है फ्यूचर

शायद कभी ना करें शादी : पिता के साथ खराब हुआ रिश्‍ता, तो बिगड़ सकता है फ्यूचर

पिता, हमारी जिंदगी में इनकी बहुत अहमियत होती है। कई बच्‍चों के लिए उनके पिता किसी हीरो या रोल मॉडल से कम नहीं होते हैं। इस स्थिति को डैडी इश्‍यूज या Daddy issues कहते हैं। हालांकि, चिकित्सकीय और मनोवैज्ञानिक रूप से इस गैर-समर्थित शब्द का प्रयोग कई तरह से किया जाता है। जो महिलाएं अपने से बड़ी उम्र के आदमी को डेट करती हैं और ज्‍यादातर जिन महिलाओं को मर्दों के साथ कुछ प्रॉब्‍लम होती है, उनके लिए इस टर्म का उपयोग किया जाता है।
Daddy issues क्‍या है : इस टर्म का कोई चिकित्‍सकीय संबंध नहीं है। आपके पिता के साथ आपके कैसे संबंध है, इससे यह टर्म संबंधित है। पिता के साथ बिगड़े रिश्‍तों को इस टर्म की जड़ कहा जा सकता है। विशेषज्ञों का कहना है कि बड़े होने पर अपने रिश्‍तों को लेकर आप कैसे हैं, इस पर पिता के होने या ना होने का बहुत ज्‍यादा असर पड़ता है। जब बच्‍चे के बिहेवियर में इस तरह की समस्‍याएं दिखने लगती हैं, तो अक्‍सर लोग उन्‍हें डैडी इश्‍यू कह कर चिढ़ाते हैं।
जिन लोगों का अपने पिता के साथ हेल्‍दी रिलेशनशिप नहीं होता है या कोई अपने पिता को रोल मॉडल की तरह नहीं देखता है, वो अक्‍सर गुमराह हो जाते हैं। अक्‍सर पिता के प्‍यार की कमी की वजह से ये बच्‍चे इमोशनली खाली होकर ही बड़े होते हैं।
​रिश्‍तों की चाहिए गारंटी : कभी-कभी इन बच्‍चों को बड़े होकर किसी भी रिलेशनशिप में आने से पहले उसकी गारंटी चाहिए होती है। जिन लोगों के पिता अच्‍छे नहीं होते हैं, वो अपने पार्टनर को भी वैसा ही या उन्‍हीं कमियों के साथ देखते हैं।
​क्‍या हैं संकेत : बचपन में किसी के साथ क्‍या-क्‍या हुआ है या एक बच्‍चे के तौर पर उसका अनुभव कैसा रहा है, इसके आधार पर डैडी इश्‍यूज के कई संकेत देखने को मिल सकते हैं।
मर्दों के साथ आती है दिक्‍कत : जिन बच्‍चों को अपने पिता का प्‍यार नहीं मिल पाता है, उन्‍हें बड़े होकर दूसरे पुरुषों के साथ बॉन्‍ड बनाने में बहुत दिक्‍कत आती है। रिश्‍ते को आगे बढ़ाने के लिए भरोसा और विश्‍वास लाने में इन्‍हें दिक्‍कत होती है।
हालांकि, अगर किसी लड़की का अपने पिता के साथ रिश्‍ता बहुत ज्‍यादा खराब रहा है, तो उनके अपने से बड़ी उम्र के मर्दों को डेट करने की संभावना रहती है। यही वजह है कि इन महिलाओं को डैडी इश्‍यू कहकर बुलाया जाता है।
क्‍या पड़ता है असर : डैडी इश्‍यू आपके रिश्‍तों में अहम भूमिका निभाता है। इससे प्रभावित लोगों की पार्टनर चुनने की प्रवृत्ति प्रभावित होती है। जैसे कि अगर किसी के पापा गाली देते या मारपीट करते थे, तो उस बच्‍चे को अपने रिलेशनशिप में हमेशा यही डर सताएगा कि कहीं उसका पार्टनर उसे तकलीफ ना दे।
पार्टनर को नहीं रखते खुश : पिता के साथ जिनके भी संबंध खराब रहते हैं, हो सकता है कि वो लोग अपने पार्टनर के साथ सुख-शांति से ना रह पाएं। आपका बचपन कैसा रहा है, इसका असर आपके भविष्‍य पर पड़ सकता है।
कैसे बाहर निकलें : इसके संकेतों को पहचानकर इसके कारण का पता लगाने की कोशिश करें। हो सके तो किसी एक्‍सपर्ट से बात करें। जहां आपको लगता है कि आपको सुधार की जरूरत है, उन चीजों पर काम करें। जिन चीजों में आपको दिक्‍कत लगती है, उसे लिखकर रख लें। इससे आपका मन काफी हल्‍का हो जाएगा।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This