Saturday , April 20 2024 6:30 PM
Home / Business & Tech / Apple फैंस के लिए बुरी खबर! इस मेगा प्रोजेक्ट पर लगा ब्रेक, Xiaomi ने मार ली बाजी

Apple फैंस के लिए बुरी खबर! इस मेगा प्रोजेक्ट पर लगा ब्रेक, Xiaomi ने मार ली बाजी


ऐपल ने अपने ऑटोमेटिक इलेक्ट्रिक कार बनाने के मेगा प्रोजेक्ट को फिलहाल रोक दिया है। क्योंकि कंपनी एआई पर शिफ्ट करना चाहती है। मतलब ऐपल की इलेक्ट्रिक कार के लिए आपको इंतजार करना पड़ सकता है, जिसकी टक्कर टेस्ला से मानी जा रही थी। आइए जानते हैं विस्तार से…
टेक कंपनी Apple को यूनीक प्रोडक्ट बनाने के लिए जाना जाता है। ऐसा ही ऐपल का एक मेगा प्रोजेक्ट इलेक्ट्रिक कार बनाने का था। हालांकि ऐपल के इस प्रोजक्ट पर काम बंद हो चुका है, जबकि इस मामले में चाइनीज कंपनी Xiaomi बाजी मारते हुए दिख रही है, जहां ऐपल कार का कॉन्सेप्ट मॉडल तक लॉन्च नहीं हुआ है। वही शाओमी की ओर से मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस में शाओमी इलेक्ट्रिक कार को पेश कर दिया गया है, जो की शाओमी के इन-हाउस Hyper OS पर बेस्ड है।
क्यों बंद हुआ ऐपल का प्रोजेक्ट? – ईटी की रिपोर्ट की मानें, तो ऐपल ने अपने वर्षों पुराने इलेक्ट्रिक कार बनाने के प्लान को कैंसिल कर दिया है। इस प्रोजेक्ट पर करीब 2,000 कर्मचारी काम कर रहे थे। इस प्रोजेक्ट पर काम करने वाले कर्मचारियो ने इस मामले की जानकारी दी है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि ऐपल की ओर से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर जोरशोर से काम किया जा रहा है। ऐसे में सभी कर्मचारी जेनरेटिव एआई पर काम करेंगे।
साल 2014 में शुरू हुआ था काम – Apple कार प्रोजेक्ट में करीब 100 हार्डवेयर इंजीनियर और कार डिजाइनर काम कर रहे थे। बता दें कि टेक दिग्गज ने साल 2014 के आसपास इलेक्ट्रिक कार बनाने का काम शुरू किया था। इसमें इंटीरियर और वॉइस इनेबल्ड नेविगेशन सिस्टम पर काम पूरा हो चुका था। ऐपल की ओर से टेस्ला की तरह ऑटोमेटिक कार बनाना था।
Apple जल्द ला रहा है अपने दो नए फोल्डेबल फोन, Samsung Fold को मिलेगी टक्कर, watch video
एआई पर ऐपल करेगा फोकस – Apple की ओर से ऑटोमेटिक इलेक्ट्रिक कार को करीब 100,000 डॉलर में लॉन्च करने की योजना थी। हालांकि ऐपल का इस प्रोजेक्ट पर हर साल करोड़ों डॉलर खर्च हो रहा था, जबकि एआई पर अलग से खर्च हो रहा था। ऐसे में कंपनी ने मौजूदा वक्त में एआई पर ज्यादा फोकस करना जरूरी समझा