Thursday , December 3 2020 11:28 PM
Home / Lifestyle / डिलीवरी के बाद नैचुरली और तेजी से वजन घटाने के आसान तरीके

डिलीवरी के बाद नैचुरली और तेजी से वजन घटाने के आसान तरीके


डिलीवरी के बाद निकला हुआ और शरीर के कई हिस्‍सों पर जमा फैट जैसे मन को चुभने लगता है। आपको बस इंतजार होता है कि कब डॉक्‍टर हरी झंडी दें और आप अपने वेट लॉस पर काम करना शुरू करें।
प्रेगनेंसी में अक्‍सर महिलाओं का वजन बढ़ जाता है जिसे लेकर वो चिंता करने लगती हैं। डिलीवरी के बाद महिलाओं को यही चिंता सताती है कि अब बढ़े हुए वजन को कम कैसे किया जाए। कुछ जिम जाकर पतला होने की सोचती हैं तो कुछ डायटीशियन से अपने लिए स्‍पेशल डायट बनवाकर उसे फॉलो करने की कोशिश करती हैं लेकिन आपको बता दें कि आप घर पर रहते हुए ही कुछ आसान तरीकों से नैचुरली ही अपने प्रेगनेंसी वेट को घटा सकती हैं।
डायट में क्‍या लें : आपकी थाली में जितना भी खाना है, उसे पूरा खाएं और थोड़ी-थोड़ी मात्रा में करके खाएं। आप दिन में पांच से छह बार कम-कम मात्रा में खाना खा सकती हैं। ताजा फल और सब्जियों का ही सेवन करें क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे रहते हैं। साबुत अनाज वाली ब्रेड, ब्राउन राइस को अपने आहार में शामिल करें। ज्यादा शुगर वाले पेय पदार्थों से दूरी बनाएं और प्रोटीन युक्त चीजें जैसे कि मीट, चिकन, अंडे, योगर्ट और दूध को अपने खाने में शामिल करें।
डिलीवरी के बाद 40 दिनों के जापे में जरूर करने चाहिए ये काम : बच्‍चे के जन्‍म के बाद मां के लिए भरपूर नींद ले पाना मुश्किल काम है लेकिन नींद लेना भी जरूरी है इसलिए जब भी आपको मौका मिले, अपने बच्‍चे के साथ आप झपकी ले लें।
आपको इस समय मानसिक और शारीरिक थकान महसूस हो सकती है और आपको लगेगा जैसे कि ये समय कभी खत्‍म ही नहीं होगा लेकिन जब आपके बच्‍चे का स्‍लीप रूटीन बन जाएगा तब आपकी जिंदगी भी ट्रैक पर आने लगेगी। तब तक के लिए अपने बच्‍चे के सोने पर ही सो जाएं, इससे कुछ हद तक तो आपकी नींद पूरी होगी।
डिलीवरी के दौरान शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव और कमजोरी आ जाती है जिसे दूर करने के लिए मालिश को बहुत फायदेमंद माना जाता है।
मालिश से शरीर की थकान को दूर करने और रक्‍त प्रवाह में सुधार आने में मदद मिलती है। सी-सेक्‍शन के बाद पैरों और कमर की मालिश करवाना बहुत फायदेमंद होता है क्‍योंकि इससे शरीर की कमजोरी दूर होती है और आपको ताकत महसूस होने लगती है।
डिलीवरी के बाद मां के शरीर को ताकत और एनर्जी देने के लिए गोंद के लड्डू खिलाए जाते हैं। ऐसी ही कुछ और भी चीजें हैं जो डिलीवरी के बाद शरीर के घावों को भरने में मदद करते हैं। गोंद के लड्डुओं की तरह और भी कई ऐसी चीजें हैं जो प्रसव के बाद शरीर को ताकत देने में मदद करती हैं। ये स्‍तनों में दूध को बढ़ाने का भी काम करती हैं।
ऑपरेशन के बाद टांकों को भरने के लिए आप यहां बताए गए तरीके अपना सकती हैं : : अगर आपकी एपीसीओटोमी हुई है तो डिस्‍इंफेक्‍टेंट मिलाकर गुनगुने पानी में बैठ जाएं। इससे टांके वाली जगह साफ होगी और आपको दर्द से भी आराम मिलेगा।ठंडी सिकाई से दर्द और सूजन को भी कम किया जा सकता है। एक तौलिया लें और उसमें बर्फ को लपेटकर टांके वाली जगह की सिकाई करें।इंफेक्‍शन से बचने के लिए टांके वाली जगह पर रोज क्रीम या दवा लगाएं।
पैरेंट्स बनने के बाद कपल्‍स को एक-दूसरे के लिए ज्‍यादा समय नहीं मिल पाता है और आप दोनों ही बस बच्‍चे की जरूरतों और परवरिश में बिजी रहते हैं। लेकिन अगर आप अपने पति के साथ कुछ स्‍पेशल टाइम बिताती हैं तो आप मेंटली थोड़ा बेहतर महसूस कर सकती हैं। शिशु को सुलाने के बाद पति के साथ थोड़ा समय बिताएं।
क्रैश डाइट अवॉइड करें : महिलाओं को प्रसव के दौरान जो पीड़ा होती है उस दर्द और थकावट से उभरने में कुछ समय लगता है। यह थकावट बच्‍चे के 2 या 3 महीने के होने तक रहती है। इस समय महिलाओं को अपनी सेहत का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए और अपने वजन और कैलोरी की मात्रा पर नजर रखनी चाहिए।
स्तनपान कराने वाली महिलाएं अगर क्रैश डाइट शुरू कर दें तो इसका बुरा असर ब्रेस्‍ट मिल्‍क पर पड़ता है जिससे बच्‍चे को पर्याप्‍त दूध नहीं मिल पाता है और आप तो जानती ही हैं कि बच्‍चे के लिए पोषण का एक मात्रा तरीका ब्रेस्‍ट मिल्‍क ही है।
डिलीवरी के बाद धीरे-धीरे काम करना शुरू करें : प्रसव पीड़ा के बाद शरीर में बहुत कमजोरी आ जाती है इसलिए अपने पुराने रूटीन में आने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए। यदि आपकी नॉर्मल डिलीवरी हुई है तो आप 20 दिनों के बाद थोड़े-बहुत काम करने शुरू कर सकती हैं लेकिन सिजेरियन डिलीवरी की स्थिति में पूरी तरह से रिकवर होने दें।
दरअसल, बेबो को अपने घर के बाहर स्पॉट किया गया था। वर्क फ्रंट पर अभी भी ऐक्टिव बनी हुईं करीना ने इस दौरान वाइट कलर की ड्रेस पहनी थी। इस मैक्सी ड्रेस में नीचे की ओर ऐ-सिमेट्रिकल डिजाइन थी, जो उसका सबसे बड़ा स्टाइल एलिमेंट भी रहा। यह फ्लेयर्ड डिजाइन करीना के बेबी बंप को पूरी तरह से हाइड करते हुए इसे प्रेगनेंट महिलाओं के लिए परफेक्ट आउटफिट बना रही थी।
बेबो की आउटफिट में स्पैगटी स्लीव्स और फ्रंट में स्मॉल वी कट नेकलाइन थी। वहीं पीछे की ओर इसे डीप कट शेप में रखा गया था। ड्रेस पर ओवरऑल ब्लैक ऐंड ग्रे कलर के ब्लर्ड पोल्का डॉट्स भी थे। यह पैटर्न इन दिनों काफी ज्यादा ट्रेंड में है। करीना ने इसके साथ गोल्डन कलर के फ्लैट्स पहने थे। वहीं उन्होंने नेकलाइन को हाईलाइट होने देने के लिए अपने बालों को स्लीक पोनी में स्टाइल किया था और काले चश्मे के साथ लुक को परफेक्ट फिनिश दी थी।

इससे पहले भी करीना का वाइट के लिए प्यार दिखा था। अपने बर्थडे पर भी बेबो ने शूटिंग की थी, इसके लिए उन्होंने सफेद रंग की वाइड लेग पैंट्स और उससे मैच करता कॉलर वाला ब्लाउज चुना था। इसके साथ ऐक्ट्रेस ने फुटवेअर भी वाइट रखे थे। उन्होंने अपने बालों को स्लीक रखते हुए पीछे से पिन किया था। प्रेगनेंट करीना ने इस सुपर स्टाइलिश लुक के साथ जूलरी में सिर्फ गोल्ड हूप ईयररिंग्स पहने थे।
पानी पीना है जरूरी : शरीर के लिए पानी बहुत आवश्यक होता है। त्वचा की देखभाल, वजन कम करने और बच्चे के सही विकास के लिए ज्यादा पानी पीना बहुत अच्छा माना जाता है। जो महिलाएं स्तनपान कराती हैं, उन्हें रोज कम से कम 3 लीटर पानी अवश्य पीना चाहिए क्योंकि स्तन में जो दूध बनता है वो 50% प्रतिशत पानी होता है। यदि आप अपने शरीर को डिलीवरी से पहले की तरह करना चाहती हैं तो अपनी सेहत के साथ किसी भी तरीके का समझौता न करें और सेहत का ख्याल रखें। आप पानी के साथ-साथ नारियल पानी और नींबू पानी से भी शरीर को हाइड्रेट कर सकती हैं।
स्तनपान : कहते हैं कि स्‍तनपान मां और बच्‍चे दोनों की सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इससे महिलाओं को वजन कम करने में भी मदद मिलती है क्योंकि इससे रोजाना 850 कैलोरी घटती है लेकिन स्तनपान कभी-कभी वजन बढ़ने की भी वजह बन जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि स्तनपान कराने के बाद भूख बहुत लगती है और आप ज्यादा खाना खाती हैं। अगर आप अपने आहार में पौष्टिक चीजों को शामिल कर के ओवरईटिंग से दूर रहें तो स्तनपान से वजन को कम करने में बहुत मदद मिल सकती है।
भरपूर नींद लें : स्‍वस्‍थ रहने के लिए पूरी नींद लेना बहुत आवश्यक होता है। एक स्‍टडी के अनुसार रात में पांच घंटे नींद लेने वाली महिलाओं की तुलना में सात घंटे की नींद लेने वाली महिलाओं का प्रेगनेंसी के बाद वजन जल्‍दी घटा। पर्याप्‍त नींद लेने के बाद आप ज्‍यादा एक्टिव और रिफ्रेश महसूस करती हैं और वेट लॉस पर ध्‍यान दे पाती हैं इसलिए बेहतर होगा कि आप डिलीवरी के बाद भी भरपूर नींद लेने की कोशिश करें।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This