Monday , November 29 2021 6:14 AM
Home / Entertainment / Bollywood / ‘फुल्लू’: पीरियड्स शर्म की बात नहीं, इसपर जागरूकता जरूरी- ज्योति सेठी

‘फुल्लू’: पीरियड्स शर्म की बात नहीं, इसपर जागरूकता जरूरी- ज्योति सेठी


मुंबईः महिलाओं को हर महीने होने वाले मासिक धर्म, उससे जुड़ी तमाम दिक्कतों और सामाजिक वर्जनाओं को लेकर लीक से हटकर एक फिल्म ‘फुल्लू’ शुक्रवार को सिनेमाघरों मे रिलीज होने वाली है। फिल्म में लीड रोल निभा रहे एक्टर शारिब हाशमी ने इस फिल्म से जुड़े तमाम मुद्दों पर रोशनी डाली।

इसमें ज्योति के अलावा अभिनेता शरीब हाश्मी मुख्य किरदार में हैं। फिल्म में अपने किरदार के बारे में ज्योति ने बताया, “मैं इस फिल्म में फुल्लू की पत्नी का किरदार निभा रही हूं। शारिब हाशमी के मुताबिक जो लोग पीरियड और मासिक धर्म के बारे में बात करने से कतराते हैं। ये फिल्म उन्हीं के बारे में है। मैं भी उन लोगों में शामिल हूं।
बता दें फिल्म की शूटिंग मथुरा के छोटे से गांव में हुई है। वहां की औरतें सेनेटरी नैपकीन के बारे में कितना जानती थी? वहां की औरतों को तो ये ही नहीं पता कि सेनेटरी नैपकीन होता क्या है। शूट करते हुए जब वहां के लोग हमें देखते थे तो हंसने लगते थे। कई तो समझ ही नहीं पाते थे कि आखिर हो क्या रहा है। लेकिन उन्होंने हमें वहां काफी सहयोग दिया। और जितना हमसे संभव हो पाया, शूटिंग के दौरान हमने भी लोगों को इस विषय के बारे में समझाने की कोशिश की।
इस फिल्म में पूरी ईमानदारी के साथ यह संदेश दिया गया है कि इन्फेक्शन से बचने के लिए सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना चाहिए। फिल्म की लीड एक्ट्रैस ज्योति शेट्टी कहती हैं, बोर्ड ने फुल्लू को ‘ए’ सर्टिफिकेट दिया है। खुद मुझे ये समझ नहीं आ रहा कि फिल्म को ‘ए’ सर्टिफिकेट किस आधार पर दिया गया है। हमारी फिल्म का सब्जेक्ट टीनएजर्स के लिए जानना सबसे ज़्यादा जरूरी है। लेकिन अब ‘ए’ सर्टिफिकेट मिलने से दर्शकों की यही क्लास फिल्म नहीं देख पाएगी।’

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This