Tuesday , June 15 2021 8:11 PM
Home / Lifestyle / घर पर कोरोना मरीज की कैसे करें देखभाल? यहां जानिए

घर पर कोरोना मरीज की कैसे करें देखभाल? यहां जानिए

कोरोना वायरस की दूसरी लहर तेजी से लोगों को अपना शिकार बना रही है। भारत में दिनों-दिन इसके आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में अगर कोई आपके घर या आस-पड़ोस में इस वायरस से संक्रमित है तो उनका अच्छे से ध्यान रखें। इसके साथ ही अपनी भी सेफ्टी रखें ताकि आप इस वायरस की चपेट में आने से बचें रहें। तो आइए जानते हैं कोरोना वायरस के शिकार मरीज का ध्यान रखने में कुछ आवश्यक बातें…
अलग कमरा दें : कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति को घर के अलग कमरे में रखें। उसे ऐसा कमरा दे जो घर के बाकी कमरों से दूर हो। इसके साथ रूम में अटैच बाथरूम हो। इसके अलावा उसकी जरूरत का सारा सामान भी रखें।
दूरी बनाकर रखें : मरीज के पास जाने से पहले मुंह पर मास्क जरूर पहनें। इसके साथ ही रोगी से 1 फीट के फासले पर रहें। इसके अलावा अपने हाथों को बिना धोए या सैनिटाइज किए आंख, मुंह और नाक पर न लगाएं।
परिवार समेत खुद को करें आइसोलेट : घर पर अगर कोरोना मरीज है तो परिवार समेत खुद को दो हफ्तों के लिए आइसोलेट कर लें। घर पर ही वर्कआउट करें और अगर कोई डिलीवरी करने आया हो तो उसे सामान दरवाजे के बाहर ही रखने के लिए कहें।
कमरे की सफाई का रखें ध्यान : इस वायरस का शिकार हुए रोगी का कमरा बिल्कुल साफ होना चाहिए। इसके लिए रोजाना रोगी का वॉशरूम, बेड, कमरे में पड़ी जरूरी चीजों को साफ करें।
अपनी सेफ्टी का रखें ध्यान : रोगी के पास उसकी देखभाल के लिए घर का कोई एक मेंबर ही जाएं। उसके पास जाने से पहले हाथों में ग्लव्स जरूर पहनें। रोगी से मिलने के बाद उन ग्लव्स को उतार कर ऐसी जगह रखें जहां कोई भी उसे छू न सके। इसके साथ ही मरीज से संपर्क के बाद हाथों को सैनिटाइजर या साबुन से अच्छी तरह साफ करें।
मरीज की चीजें अलग रखें : मरीज को घर की चीजों को छूने न दें। डेली रूटीन की अपनी चीजें जैसे कि तौलिया, बर्तन, गैजेट्स आदि उससे दूर रखें। उसके लिए सब चीजें अलग से उसके कमरे में रखें। अगर वह घर की चीजों को छूएगा तो वायरस पूरे घर में फैल जाएगा। ऐसे में घर के बाकी के सदस्यों के इसकी चपेट में आने का खतरा बढ़ जाएगा।
डॉक्टर से संपर्क करें : समय-समय पर डॉक्टर या हेल्थ केयर सेंटर से संपर्क कर इस वायरस से जुड़ी जानकारी जरुर लें। इसके साथ ही मरीज में दिख रहे लक्षण और उसकी उम्र आदि के बारे में डॉक्टर को सही बताएं ताकि इलाज जल्दी और सही हो सके।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This