Thursday , May 30 2024 5:22 AM
Home / Sports / एमएस धोनी ने मारे हार्दिक पंड्या को हैट्रिक छक्के, फिर लाइव मैच में गेंद कर दी फैन को गिफ्ट

एमएस धोनी ने मारे हार्दिक पंड्या को हैट्रिक छक्के, फिर लाइव मैच में गेंद कर दी फैन को गिफ्ट


मुंबई: एमएस धोनी शानदार फॉर्म में दिखाई दिए। उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस के खिलाफ 20 रनों से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच में धोनी पहली पारी के आखिरी ओवर में बल्लेबाजी करने आए और चार गेंदों पर उन्होंने हार्दिक पंड्या की गेंदों पर लगातार तीन छक्के और एक चौका लगाया, जिससे सीएसके का स्कोर 20 ओवर में 206/4 हो गया। रोहित शर्मा ने एमआई के लिए 63 गेंदों पर नाबाद 105 रनों की पारी खेली, लेकिन वह अपनी टीम को 20 ओवर में 186/6 के स्कोर तक ही पहुंचा सके।
पवेलियन लौटते धोनी ने दिया फैन को गिफ्ट – पहली पारी के बाद धोनी ने उस वक्त एक फैन का दिल जीत लिया, जबकि वर्ल्ड चैंपियन कप्तान ड्रेसिंग रूम की ओर सीढ़ियां चढ़ रहे थे। उन्होंने तभी स्टैंड में मौजूद प्रशंसकों के बीच एक युवा लड़की को देखा। उन्होंने सीढ़ियों से एक गेंद उठाई, जिसे उन्होंने हार्दिक को छक्का लगाया था, उसे उस युवा लड़की को दे दिया। यह धोनी का आखिरी आईपीएल सीजन हो सकता है। वह पहले से ही 42 साल के हैं। वह अपने करियर का अंत एक खिताब के साथ करना चाहेंगे। यही वजह है कि मैच में फैंस अपनी फेवरिट टीम को चीयर करने की जगह धोनी को चीयर करना पसंद कर रहे हैं।
कप्तान रुतुराज गायकवाड़ ने धोनी की तारीफ की – मैच के बाद सीएसके के कप्तान रुतुराज गायकवाड़ ने मैच में धोनी के प्रभाव की सराहना की। उन्होंने कहा- विकेटकीपर ने उन तीन छक्कों से हमें बहुत मदद की, जो अंतर साबित हुआ। इस तरह के मैदान के लिए हमें उन 10-15 अतिरिक्त रनों की जरूरत थी। बीच में बुमराह ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की। मुझे लगता है कि हम गेंदबाजी के साथ अपने प्लान को लागू करने में सटीक थे।
उन्होंने अपने गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा- हमारे मलिंगा (मथीशा पथिराना) ने आज बहुत अच्छी गेंदबाजी की। उन्होंने उन यॉर्करों को अच्छी तरह से निशाना बनाया। यह नहीं भूलना चाहिए कि तुषार और शार्दुल ने भी अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि हमें आने वालों मैचों में अपने प्लान को सिंपल रखने की जरूरत है। जिंक्स को थोड़ी परेशानी हो रही थी, इसलिए सोचा कि उनके लिए ओपनिंग करना बेहतर होगा। मैं कहीं भी बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हूं, साथ ही टीम के कप्तान के रूप में यह अतिरिक्त जिम्मेदारी है।