Tuesday , August 9 2022 1:11 PM
Home / News / वैज्ञानिक की चेतावनी- संभलकर ‘रिसर्च’ करें, एक, दो नहीं बल्कि चार एलियन सभ्यताएं मिल्की वे से धरती पर करेंगी हमला

वैज्ञानिक की चेतावनी- संभलकर ‘रिसर्च’ करें, एक, दो नहीं बल्कि चार एलियन सभ्यताएं मिल्की वे से धरती पर करेंगी हमला

एलियंस को धरती के लिए खतरा बताने वाला एक और दावा सामने आया है। एक शोधकर्ता का मानना है कि हमारी आकाशगंगा मिल्की वे में चार एलियन सभ्यताएं मौजूद हैं जो धरती पर हमला कर सकती हैं। स्पेन की यूनिवर्सिटी ऑफ वीगो में पीएचडी कर रहे अल्बर्टो कैबलेरो ने कहा कि उन्होंने 1977 में डिटेक्ट किए गए ‘WoW Signal’ के सटीक स्रोत का पता लगाया है। वाइस न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है। हालांकि उनकी रिसर्च को एक ‘कल्पना’ माना जा रहा है।
अल्बर्टो के रिसर्च पेपर का नाम ‘Estimating the Prevalence of Malicious Extraterrestrial Civilizations’ है। उनके पेपर का उद्देश्य अन्य वैज्ञानिकों को चेतावनी देना और एलियन सभ्यताओं की एक संख्या बताना है जो अंतरिक्ष में भेजे जा रहे मैसेज का जवाब दे सकते हैं। अपने पेपर में उन्होंने पृथ्वी पर हो चुके आक्रमणों की संख्या भी बताई है जिसमें WoW Signal भी शामिल है।
इंसानों से अलग एलियंस का दिमाग : अल्बर्टो का अनुमान है कि चार एलियन सभ्यताएं हमारे ग्रह पर हमला कर सकती हैं। उन्होंने वैज्ञानिकों को मैसेजिंग एक्स्ट्राटेरेस्ट्रियल इंटेलिजेंस (METI) का इस्तेमाल करने में सावधानी बरतने की भी चेतावनी दी है। वाइस से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘हम दूसरी दुनिया के लोगों के दिमाग के बारे में नहीं जानते हैं। दूसरी दुनिया की सभ्यता के लोगों के पास बिल्कुल अलग रासायनिक संरचना वाला दिमाग हो सकता है। संभवतः उनके पास सहानुभूति न हो या उनके पास और ज्यादा मनोवैज्ञानिक व्यवहार हों।’
क्या एलियंस ने धरती पर भेजा था सिग्नल? : शोधकर्ता ने कहा, ‘मैंने इसी तरीके से अध्ययन किया है जिसकी कुछ सीमाएं हैं क्योंकि हमें नहीं पता कि एलियंस का दिमाग कैसा है।’ वैज्ञानिक का कहना है कि एक रहस्यमय सिग्नल हमारे जैसे ही एक दूसरे सौरमंडल से एलियंस ने लगभग आधी सदी पहले भेजा था। इसे ‘WoW सिग्नल’ के नाम से जाना जाता है। 15 अगस्त 1977 को रेडियो सिग्नल रिसीव किया गया। जो करीब एक मिनट लंबा था। इस सिग्नल पर वैज्ञानिक सालों तक काम करते रहे।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This