Thursday , September 24 2020 2:49 PM
Home / News / रूसी जहर से बचे पुतिन के विरोधी नवेलनी ने शेयर की तस्वीर, बोले- सांस ले सकता हूं

रूसी जहर से बचे पुतिन के विरोधी नवेलनी ने शेयर की तस्वीर, बोले- सांस ले सकता हूं


घातक नोविचोक जहर से बचे रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नवेलनी ने मंगलवार को अस्पताल से अपनी एक तस्वीर शेयर की। जिसमें उन्होंने लिखा कि अब मैं सांस ले सकता हूं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर लिखा कि अभिवादन, मैं नवेलनी हूं। मुझे आप (सभी) की बहुत याद आ रही है। अब भी मैं काफी कुछ तो नहीं कर सकता लेकिन कल मैं पूरे दिन खुद से सांस ले पाया। बिल्कुल अपने आप, बिना किसी बाहरी मदद के, गले में कोई रूकावट भी नहीं है।
जर्मनी में जारी है नवेलनी का इलाज
नवेलनी को रूस में फ्लाइट के दौरान बीमार पड़ने के दो दिन बाद चैरिटी अस्पताल में इलाज के लिए 20 अगस्त को बर्लिन ले जाया गया था। जहां टेस्ट के बाद जर्मनी की डिफेंस लैब ने बताया कि नवेलनी पर रूस की बनी नर्व एजेंट नोविकोच नामक जहर से हमला किया गया था। इससे पहले भी इस जहर का इस्तेमाल पूर्व रूसी जासूस सर्गेई स्क्रीपल और उनकी बेटी पर 2018 में इंगलैंड के सेलिसबरी में किया गया था।
कई लैब्स में टेस्ट के दौरान मिला नोविचोक जहर
जर्मन सरकार के प्रवक्ता स्टीफन सीबर्ट ने कहा कि हेग स्थित रसायनिक हथियारों के निषेध के लिये संगठन (ओपीसीडब्ल्यू) को भी नमूने मिले हैं। ओपीसीडब्ल्यू भी अपनी लैब्स में इनके टेस्ट की तैयारी कर रहा है। सीबर्ट ने कहा कि ओपीसीडब्ल्यू द्वारा स्वतंत्र तौर पर की जा रही जांच के अलावा, तीन प्रयोगशालाओं ने अलग-अलग इस बात की पुष्टि की है कि नवेलनी को जहर दिये जाने के मामले में नोविचोक समूह के नर्व एजेंट के साक्ष्य मिले हैं।

20 अगस्त को नवेलनी को दिया गया था जहर
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के मुखर विरोधियों में से एक नवेलनी को रूस में 20 अगस्त को एक घरेलू उड़ान के दौरान बीमार हो जाने के दो दिन बाद विमान से जर्मनी लाया गया था। जर्मनी ने रूस से मामले की जांच की मांग की है। सीबर्ट ने एक बार फिर जर्मनी की मांग दोहराई कि मामले में रूस को खुद सफाई देनी चाहिए। उन्होंने कहा, कि इस मामले में आगे के कदमों को लेकर हम अपने यूरोपीय साझेदारों के साथ संपर्क में हैं।

50 साल पुराना है नोविचोक जहर
नोविचोक सोवियत संघ के जमाने का नर्व एजेंट है। कहा जाता है कि रूसी खुफिया एजेंसी अपने बड़े शिकार को आसानी से मारने के लिए इसका इस्तेमाल करती है। इसको 1960 से 1970 के दशक में बनाया गया था। इस जहर को रूस की चौथी पीढ़ी के रसायनिक जहर को विकसित करने के कार्यक्रम फोलेन्ट के जरिए बनाया गया था। 1990 के पहले दुनिया को इस नर्व एजेंट के बारे में मालूम ही नहीं था। रूसी वैज्ञानिक डॉ विल मिर्जानोव ने अपनी किताब स्टेट सीक्रेट्स में इस जहर के बारे में बताया था।

कौन हैं नवलनी
नवलनी रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के विरोधी नेता है। वे राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ भ्रष्टाचार-विरोधी प्रचारक के रूप में भी लंबे समय से सक्रिय हैं। आरोप है कि उन्हें जहर दिया गया है, वे अभी बर्लिन के एक अस्पताल में भर्ती हैं।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This