Saturday , February 4 2023 8:45 AM
Home / Off- Beat / रेस में पुरुषों से आगे निकलने की मिली सजा

रेस में पुरुषों से आगे निकलने की मिली सजा


दुनिया में आए दिन ऐसे अजब गजब हादसे होते रहते हैं, जो लोगों की प्रवत्ति को लेकर सोचने पर मजबूर कर देते हैं । हाल ही में हुई एक रेस प्रतियोगिता के दौरान एक महिला के साथ विचित्र व्यवहार हुआ जो आश्चर्यचकित कर देने वाला है। बैल्जियम में होने वाली महिलाओं की एक खास रेस को कुछ वक्त के लिए सिर्फ इसलिए रोक दिया गया क्योंकि इसमें शिरकत करने वाली निकोल हेनस्लमन पुरुष प्रतिस्पर्धियों के काफी नजदीक पहुंच गई थीं।
ये रेस बीते शनिवार को हुई थी और इसका आयोजन ओमलूप हेट न्यूजब्लाद नाम की संस्था ने किया था।संस्था के रेस मार्शल ने निकोल को 35 किलोमीटर के बाद उस वक्त रोक लिया जब वो तेजी से बढ़त लेते हुए पुरुष प्रतिस्पर्धियों के पास पहुंचने वाली थीं। हेनस्लमन की स्पीड को काफी तेज माना गया। इस रेस में शामिल होने वाले पुरुषों को महिलाओं से दस मिनट पहले ही आगे जाने दिया। इसके बावजूद 123 किलोमीटर की इस रेस में निकोल उनके काफी करीब आ गईं।जब निकोल को रोका गया तब वो महिला प्रतिभागियों से दो मिनट आगे निकल गईं थीं। उन्हें कहा गया कि वो कुछ देर इंतजार करें ताकि पुरुषों के लिए हो रही रेस में शामिल होने वाले आगे निकल सकें।

साइकलिंग न्यूज नाम की वेबसाइट को निकोल ने बताया “हम देख सकते थे कि आगे पुरुषों की रेस में शामिल होने वाले एंबुलेंस थे। हमें पांच-सात मिनट तक रुकना पड़ा और इस कारण हमारे लिए मौके कम हुए।” इसके बाद जब महिला प्रतिभागी निकोल के नजदीक आईं तो उन्हें फिर से रेस शुरू करने की इजाजत दी गई लेकिन रुकने का खामियाजा निकोल को भुगतना पड़ा।वो फिर अपनी पुरानी गति नहीं पकड़ पाईं और 74वें स्थान पर आईं। रेस में पहला स्थान चन्ताल ब्लैक को मिला।निकोल कहती हैं, “हम पुरुषों के काफी नजदीक थे इस कारण उनसे दूरी बनाए रखने के लिए हमें रोका गया।” लेकिन इसके बाद निकोल ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर मजाक करते हुए लिखा, “शायद मैं और मेरे साथ की अन्य महिलाएं ज्यादा तेज थीं या फिर कहें कि पुरुष काफी स्लो थे।”

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This