Friday , January 22 2021 5:01 PM
Home / Lifestyle / डिलीवरी के बाद कमर दर्द छीन रहा है सुख-चैन तो इन 6 आसान तरीकों से पाएं आराम

डिलीवरी के बाद कमर दर्द छीन रहा है सुख-चैन तो इन 6 आसान तरीकों से पाएं आराम

डिलीवरी के बाद हर मां की खुशी दोगनी हो जाती है। हाथ में उसकी नन्ही सी जान होती है। चेहरे पर मुस्कान होती है। लेकिन भावनाएं, व्यवहारिकता से कुछ भिन्न हैं। कमर दर्द की कई शारीरिक वजहें हो सकती हैं, इनमें से एक हार्मोनल बदलाव है। आप कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से कमर दर्द से छुटकारा पा सकती हैं।
​सिकाई करें : सबसे पहले आप यह समझें कि डिलीवरी के बाद कमर में दर्द क्यों होता है? इसकी बड़ी वजह है कि गर्भावस्था में गर्भाशय का आकार बड़ा हो जाता है और मांसपेशियां खिंच जाती हैं।
डिलीवरी के तुरंत बाद शरीर ढीला पड़ जाता है। यही कारण है कि कमर में दर्द शुरू हो जाता है। इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए सिकाई एक अच्छा विकल्प है।
गुनगुने पानी से नहाकर कमर की अच्छी सिकाई कर सकती हैं। यदि कमर में अकड़न है तो गुनगुने पानी में सेंधा नमक का उपयोग करें। आराम मिलेगा।
​नियमित दूध पिएं : शायद आपको यह ज्ञात हो कि कैल्शियम की कमी कमर दर्द का एक महत्वपूर्ण कारण है। यदि आपके शरीर में कैल्शियम की कमी है तो कमर दर्द लंबे समय तक बना रहा सकता है।
​तेल से पीठ की मालिश करवाएं : आप सामान्य तेल जैसे सरसो के तेल से पीठ की मालिश करवाएं। इससे पीठ दर्द में फर्क पड़ता है। यदि दर्द ज्यादा होता है तो इसके लिए लहसुन और सरसो का तेल आजमा सकती हैं।
लहसुन की कुछ कलियां बारीक काटकर सरसो के तेल में डाल दें। तेल को गर्म कर लें। जब लहसुन का रंग बदलकर गोल्डन ब्राउन हो जाए, तो गैस बंद कर दें।
तेल ठंडा होने पर कमर की मालिश करें। यदि ठंड की वजह से कमर दर्द हो रहा होगा, तो जल्द आराम मिलेगा। इस तेल को कुछ दिनों तक नियमित लगाएं।
​तकिया लेकर सोएं : रात को सोते समय आपने अक्सर महसूस किया होगा कि कमर दर्द के कारण नींद अच्छी नहीं हो रही है। सुबह खुद को थका हुआ पाती हैं।
तकिये की मदद से कमर दर्द में आराम मिल सकता है। तकिया आपको सिर के बजाय अपने घुटने और कूल्हे के नीचे रखकर सोना है। इससे दर्द से राहत मिलेगी।
​वजन नियंत्रित रखें : डिलीवरी के एक माह बाद कोशिश करें कि आप अपने पुराने वजन में लौट सकें। प्रेग्नेंसी के बाद सही डाइट बहुत मायने रखती है।
पौष्टिक आहार लें और बाहरी स्नैक्स और जंक फूड से दूर रहें। यही चीजें आपको वजन नियंत्रण में मदद करेंगी। वजन सामान्य रहने पर कमर दर्द से छुटकारा भी जल्दी मिलता है।
​चहलकदमी करें :
यह सच है कि कमर दर्द होने की स्थिति में चहलकदमी करना किसी बड़ी चुनौती जैसा है। आम व्यक्ति कमर दर्द में चलने की सोचता भी नहीं है।
यदि आप कमर दर्द से आराम चाहती हैं, तो आपको यह करना पड़ेगा। वाॅकिंग एक किस्म की एक्सरसाइज है। यदि आपकी नाॅर्मल डिलीवरी हुई है, तो आप कुछ दिनों में ही वाॅकिंग शुरू कर सकती हैं। यदि सी-सेक्शन हुआ है, तो कुछ सप्ताह के गैप के बाद वाॅकिंग शुरू करें।
वाॅकिंग करना यदि पसंद न हो तो किसी एक्सपर्ट की मदद से योगा कर सकती हैं। वही आसन करें, जो आपको मांसपेशियों को स्ट्रेच करने में मदद करे।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This