Tuesday , October 27 2020 7:58 PM
Home / News / इंटरनैशनल स्पेस स्टेशन में एयर लीक, रूसी कॉस्मोनॉट्स ने टी-बैग की मदद से खोजी

इंटरनैशनल स्पेस स्टेशन में एयर लीक, रूसी कॉस्मोनॉट्स ने टी-बैग की मदद से खोजी


रूस के कॉस्मोनॉट्स ने इंटरनैशनल स्पेस स्टेशन में एक एयर लीक को ठीक किया है। खास बात यह है कि इसे टी-बैग (Tea-bag) की मदद से ठीक किया गया है। रूस के फ्लाइट कंट्रोल सेंटर से गुरुवार को बातचीत के दौरान कॉस्मोनॉट अनाटोली इवानिशिन ने यह बात बताई। टी-बैग का जीरो ग्रैविटी (Zero gravity) में एयर-लीक की ओर झूलना कैमरों में कैद किया गया।
इवानिशिन ने बताया कि लीक के एरिया को पहचान लिया गया है। ट्रांसफर चेंबर को बंद करने से पहले टी-बैग को Zvezda module में छोड़ दिया गया। इसके बाद उसके मूवमेंट को रिकॉर्ड किया गया। इवानिशन ने बताया कि टी-बैग की फ्लाइट की उड़ान की दिशा फोटो और वीडियो में दर्ज हुई और इससे पता चला कि लीक की वजह से कहां से हवा निकल रही है।
जान को कोई खतरा नहीं
इससे पहले अगस्त में पता चला था कि रूसी-अमेरिकन क्रू को स्पेस स्टेशन पर ऑर्बिटल आउटपोस्ट पर एयर लीक मिला था। एयर लीक की वजह से क्रू की सेहत या जान को कोई खतरा नहीं है। कॉस्मोनॉट सर्जे रिझिकोव ने फ्लाइट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया था कि Soyuz-MS 17 स्पेसक्राफ्ट ऑर्बिटल पोस्ट पर अतिरिक्त उपकरण लाएगा जिससे एयरलीक को ट्रेस किया जाएगा।
पहले आइसोलेशन में रहे
Soyuz MS-17 कजाकस्तान में Baikonur स्पेसपोर्ट से 14 अक्टूबर को निकला और इंटरनैशनल स्पेस स्टेशन जा पहुंचा। यह अब तक की सबसे जल्दी पूरी की जाने वाली यात्रा थी जो 3 घंटे में खत्म हो गई। इससे भेजे गए तीनों अंतरिक्ष यात्री स्टेशन के कमांडर क्रिस कैसीडी के नेतृत्व में काम करेंगे। इससे पहले जानकारी दी गई थी कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए क्रू के सदस्य ने मॉस्को के बाहर स्थित प्रशिक्षण केंद्र और उसके बाद बायकोनूर में आइसोलेशन में रहे।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This