Wednesday , January 19 2022 6:08 AM
Home / News / उबर की मुश्किलें बढ़ीं, बलात्कार पीड़िता ने लगाया ये आरोप

उबर की मुश्किलें बढ़ीं, बलात्कार पीड़िता ने लगाया ये आरोप


न्यूयॉर्क: भारत में उबर चालक द्वारा साल 2014 में बलात्कार की शिकार हुई महिला ने एप्प आधारित टैक्सी सेवा प्रदान करनेवाली कंपनी उबर और उसके मुख्य कार्यकारी टैविस कलानिक के खिलाफ बलात्कार से संबंधित मेडिकल रिकॉर्ड गैरकानूनीे तरीके से हासिल करने और साझा करने के आरोप में मुकदमा दायर किया है।
महिला ने कैलीफॉर्निया की संघीय अदालत में मुकदमा दायर कराया है। शिकायत में कहा गया है कि साल 2014 में महिला के साथ भारत में बलात्कार हुआ और अमरीका में उबर प्रबंधकों ने उसकी मेडिकल रिपोर्ट गैरकानूनी तरीके से हासिल करके और उसे साझा करके उसके साथ अन्याय किया है और अभी तक इस अपमानजनक व्यवहार के लिए मांफी भी नहीं मांगी है।

मुकदमा उबर, कलानिक, एशिया में उबर कारोबार के पूर्व उपाध्यक्ष एरिक एलेक्जेंडर और कंपनी की उस समय मौजूद उबर के कारोबार के वरिष्ठ उपाध्यक्ष इमिल माइकल के खिलाफ दर्ज कराया गया है। एलेक्जेंडर द्वारा महिला का मेडिकल रिकॉर्ड हासिल करने और इसे कलानिक तथा माइकल के साथ साझा करने के कुछ दिनों के बाद मुकदमा दर्ज कराया गया है।

मुकदमें में यह भी आरोप लगाया है कि इस कंपनी के कई प्रबंधकों को या तो रिकॉर्ड के बारे में बताया गया या उन्हें दिखाया गया।आरोप में यह भी कहा गया है कि एलेक्जेंडर, कलानिक और माइकल इस संभावना पर भी विचार कर रहे थे कि भारत में उबर की प्रतिद्वंद्वी कंपनी आेला इस घटना के चलते कंपनी को बदनाम करने के लिए एेसा कर सकती है। मुकदमे में आरोप लगाया गया है कि एक तरफ तो कंपनी इस हिंसक घटना पर खेद प्रकट कर रही थी और दूसरी तरफ यह भी सोच रही थी कि उबर के कारोबार को नुकसान पहुंचाने के लिए महिला तथा प्रतिद्वंद्वी कंपनी के बीच सांठ-गांठ हो सकती है। महिला फिलहाल अमरीका के शहर टेक्सास में रहती है और इससे पहले साल 2015 में महिला ने उबर के खिलाफ सुरक्षा मानकों की कमी को लेकर मुकदमा दर्ज कराया था। कुछ महीनों बाद इस मामले को सुलझा लिया गया था।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This