Saturday , July 13 2024 11:11 AM
Home / News / अफ्रीकी देश मोरक्को में नहीं हो सकेगा बुर्के का इस्तेमाल, बिक्री पर प्रतिबंध

अफ्रीकी देश मोरक्को में नहीं हो सकेगा बुर्के का इस्तेमाल, बिक्री पर प्रतिबंध

3
अफ्रीकी देश मोरक्को ने सुरक्षा कारणों से बुर्के के उत्पादन, बिक्री और आयात पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। स्थानीय खबरों के मुताबिक अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन यह प्रतिबंध इसी हफ्ते से लागू हो जाएगा। मोरक्को वल्र्ड न्यूज के अनुसार गृह मंत्रालय ने सोमवार को सभी दॢजयों और खुदरा व्यापारियों को बुर्के का भंडार खत्म करने के लिए 48 घंटे का समय दिया था।
मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी वजह बताते हुए कहा है कि कई लोग बुर्के के जरिए पहचान छिपाकर आपराधिक गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं।
मोरक्को सरकार के इस फैसले पर मिली-जुली प्रतिक्रिया आई है। बी.बी.सी. के अनुसार स्थानीय धर्म गुरु हम्माद कब्बाज ने बुर्के पर प्रतिबंध को अस्वीकार्य बताया है, जबकि मोरक्को में परिवार और सामाजिक विकास के पूर्व मंत्री नौजा सक्ली ने इसे धार्मिक अतिवाद से निपटने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम बताया है। मोरक्को में चेहरे को पूरी तरह ढकने वाले बुर्के के उत्पादन, बिक्री और आयात पर ही प्रतिबंध होगा, खबरों के मुताबिक देश में ज्यादातर महिलाएं चेहरा ढकने वाले बुर्के की बजाय हिजाब पहनना पसंद करती हैं, जिसमें चेहरा खुला रहता है। हालांकि, धार्मिक रूप से इस्लाम के पुराने स्वरूप को मानने वाले सलाफियों और उत्तर के रुढि़वादी इलाकों में महिलाएं नकाब पहनती हैं, जिसमें आंखों को छोड़कर पूरा चेहरा ढका होता है।
हाल के दिनों में बुर्का यूरोपीय देशों में बड़ा राजनीतिक मुद्दा रहा है। बीते साल अगस्त में फ्रांस की सर्वोच्च अदालत ने बुॢकनीस (पूरे शरीर को ढकने वाले स्विम सूट) पहनने पर लगे प्रतिबंध को खारिज कर दिया था और इसे व्यक्तिगत आजादी और मूल अधिकारों के खिलाफ बताया था, वहीं गत दिसंबर में जर्मनी की चांसलर एंजिला मर्केल ने अपने देश में बुर्के पर प्रतिबंध लगाने की अपील की थी, तब से यह मसला यूरोप में फिर चर्चा में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *