Tuesday , October 27 2020 1:04 PM
Home / News / India / ISIS की भारत को धमकी……कहा भारत आ रहे हैं बदला लेने |

ISIS की भारत को धमकी……कहा भारत आ रहे हैं बदला लेने |

फहद शेख दोfahad-sheikh_1463800217 साल पहले मुंबई से भागकर आईएस में शामिल हुआ था।
नई दिल्ली.आईएसआईएस ने भारत पर हमले की धमकी दी है। आतंकी संगठन ने अरबी में 22 मिनट का वीडियो जारी कर कहा है कि वो बाबरी मस्जिद, कश्मीर, गुजरात और मुजफ्फरनगर की घटनाओं का बदला लेने के लिए आ रहे हैं। खास बात ये है कि इस वीडियो में वही आतंकी दिखाई दे रहे हैं, जो भारत से भागकर आईएस में शामिल हुए हैं।

क्या है वीडियो में…

– ये वीडियो शुक्रवार को रिलीज किया गया है। इसमें पांच आतंकी नजर आ रहे हैं। आतंकी संगठन का यह
पहला एेसा वीडियो है, जिसमें सिर्फ भारत और साउथ एशिया को ही फोकस किया गया है।
– 2014 में मुंबई से भागकर आईएस ज्वाइन करने वाला इंजीनियर फहद तनवीर शेख भी वीडियो में नजर आता है। उसने अपना नाम अबु-अमर-अल हिंदी कर लिया है। वीडियो में शेख कहता है- “हम वापस आ रहे हैं, लेकिन हाथ में तलवार लेकर। बाबरी मस्जिद को ढहाए जाने के अलावा हमें कश्मीर, गुजरात और मुजफ्फरनगर में मारे गए मुसलमानों का बदला लेना है।
– इसमें वह ठाणे के अपने दोस्त साहिम टंकी को याद करता भी नजर आता है। टंकी सीरिया में पिछले साल मारा गया था। इनका एक और साथी इस वक्त एनआईए की कस्टडी में हैं। मजीद आईएस छोड़कर भारत वापस आ गया था। तब से सिक्युरिटी एजेंसी की कस्टडी में है।
– वीडियो में कुछ और शख्स भी नजर आ रहे हैं, लेकिन इनकी पहचान नहीं हो सकी है। माना जा रहा है कि ये सभी भारतीय हो सकते हैं।
ये भी है धमकी
– एक जिहादी कहता है, “हमारे कहर से बचने के लिए तुम्हारे पास केवल तीन ऑप्शन हैं। 1. इस्लाम कबूल करो। 2. जजिया दो। 3. मरने के लिए तैयार हो जाओ।”
– माना जाता है कि ठाणे का यह शख्स पाकिस्तान के रास्ते सीरिया पहुंचा है। एक सरकारी सूत्र का कहना है कि हमारे पास इन लोगों का आखिरी फोटोग्राफ 2008 का है। तब ये इतने कट्टरपंथी नहीं थे।
– वीडियो में इन आतंकियों ने खुद को हिंद वल सिंध का बताया है। माना जाता है कि आईएस में ये टर्म भारत और पाकिस्तान के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
– वीडियो में हिंदुओं को गाय की पूजा करने वाला और मुसलमानों के खिलाफ हिंसा करने वाला बताया गया है। एक जगह मोहम्मद बिन कासिम (मुगल राजा) का भी जिक्र है। बता दें कि आतंकी उसे भारत में इस्लामिक रूल लागू करने वाला पहला शासक मानते हैं।
– ये वीडियो समुद्र के किनारे शूट किया गया है और इसमें ज्यादातर इंटरव्यू हैं। इसमें भारत से भागे आतंकियों को जंग में हिस्सा लेते नहीं दिखाया गया है।
नई सुबह का वादा
– वीडियो में कुल 6 शख्स नजर आते हैं जो नई सुबह का वादा करता एक गीत गा रहे हैं। एक शख्स कहता है कि उसे 2008 के बाटला हाउस एनकाउंटर के बाद मुंबई छोड़ने पर मजबूर होना पड़ा। वो कहता है कि बाटला हाउस में इंडियन मुजाहिदीन का कमांडर अातिफ अमीन मारा गया था। वीडियो में मुसलमानों के लिए कहा गया है कि क्या वो मुंबई, अहमदाबाद, सूरत और जयपुर में हुए ट्रेन ब्लास्ट्स को भूल गए?
– इसमें भारत के मुस्लिम नेताओं पर भी निशाना साधा गया है। कहा गया है कि वो उस सिस्टम के साथ हैं, जो मुसलमानों के नरसंहार के लिए जिम्मेदार हैं। असदउद्दीन औवेसी और बदरुद्दीन अजमल के फोटोग्राफ भी नजर आते हैं। इन पर आरोप लगाया गया है कि वो गैर मुस्लिम नेताओं के साथ मिले हुए हैं। एक फोटोग्राफ में कांग्रेसी नेता मणि शंकर अय्यर एक हिंदू और एक मुस्लिम नेता के साथ नजर आते हैं।
– वीडियो में एक जगह कहा गया है- “उन लोगों की बात पर ध्यान मत दो, जो ये कहते हैं कि इस्लाम शांति का धर्म है। इस्लाम तो जंग का धर्म है।”

About indianz xpress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pin It on Pinterest

Share This