Sunday , October 25 2020 3:46 AM
Home / News / ऑरलैंडो क्लब में 50 लोगों की हत्या, 9/11 के बाद सबसे बड़ा आतंकी हमला

ऑरलैंडो क्लब में 50 लोगों की हत्या, 9/11 के बाद सबसे बड़ा आतंकी हमला

usa-orlando-shootingअमेरिका के फ्लोरिडा में एक गे नाइट क्लब में फायरिंग की घटना हुई।
ऑरलैंडो (यूएस). फ्लोरिडा में ‘पल्स’ एलजीबीटी नाइट क्लब में रविवार को हुई फायरिंग में 5o लोग मारे गए। इस आतंकी हमले में 50 से ज्यादा जख्मी हैं। 30 लोग बंधक भी बनाए गए थे। पुलिस ने बाद में हमलावर को गोली मार दी। ये अमेरिका इतिहास में शूटिंग की अब तक की सबसे बड़ी घटना है। वहीं, 9/11 के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर अलकायदा के अटैक के बाद सबसे बड़ा आतंकी हमला है। ऑरलैंडो पुलिस के मुताबिक, रविवार तड़के (लोकल टाइम) यह हमला हुआ। गनमैन की पहचान 29 साल के उमर मतीन के तौर पर हुई। वह अफगानिस्तान मूल का यूएस सिटीजन बताया जा रहा है। सोशल साइट्स पर लोग उसे ISIS का सपोर्टर बता रहे हैं। एफबीआई इसे आतंकी घटना मानकर जांच कर रही है। एक्सप्लोसिव्स से भरी जैकेट पहन कर घुसा था हमलावर…
– सोशल मीडिया साइट्स पर लोगों ने इस शूटिंग की घटना से जुड़ी जानकारी शेयर की।
– बताया जा रहा है कि रविवार तड़के (इंडियन टाइम के मुताबिक रविवार दोपहर) हमलावर एक्स्प्लोसिव्स से भरी जैकेट पहन कर नाइट क्लब में घुसा।
– रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमलावर के पास असॉल्ट राइफल थी और उसने अंदर लोगों को बंधक बना रखा था। एक पुलिस अफसर भी जख्मी हुआ है।
– घटना के बाद से इमरजेंसी व्हीकल्स और बॉम्ब स्क्वॉयड की टीम मौके पर मौजूद रही।l_127343_020454_updates
– ये घटना तब हुई जब LGBT कम्युनिटी इस क्लब में प्राइड मंथ सेलिब्रेट कर रही है।
– पुलिस ने इसे मास कैजुअल्टी की सिचुएशन बताया और लोगों से क्लब से दूर रहने की भी अपील की।
क्या कह रहे चश्मदीद ?

– चश्मदीदों ने पल्स फेसबुक पेज पर शूटिंग की घटना से जुड़ी इन्फॉर्मेशन शेयर कीं।
– एक यूजर जॉर्डन ने लिखा, ”मैं वहीं था जब रात 2 बजे क्लब में फायरिंग शुरू हुई। तब क्लब पूरा भरा हुआ था। शूटर असॉल्ट राइफल लिए हुए था। उसने अंदर कई लोगों को बंधक बना रखा था।”
FBI ने हमले को लेकर क्या कहा?
– एफबीआई के स्पोक्सपर्सन ने कहा कि यह आतंकी हमला है।
– ”यह नहीं पता इसमें घरेलू आतंकी शामिल हैं या अंतरराष्ट्रीय। हमलावर अमेरिकी नागरिक है।”
160612120738-omar-mateen-orlando-shooting-suspect-large-169”उसका नाम उमर मतीन बताया गया है। उसके माता-पिता अफगानिस्तान के हैं। वह फ्लोरिडा के पोर्ट सेंट लुइस का रहने वाला था।”
– ”उसके पास से असाल्ट रायफल, हैंडगन और विस्फोटक जैसा कुछ संदिग्ध बैल्ट मिला है।”

 

 

पुलिस ने धमाका कर हमलावर का ध्यान बंटाया
– शुरुआत में नौ पुलिस अफसर इस हमले से निपटने पहुंचे थे।
– हमलावर ने 30 लोगों को बंधक बना रखा था।
– पुलिस ने धमाका किया, जिससे हमलावर का ध्यान बंधकों से हटा और पुलिस ने 30 बंधकों को सेफ निकाल लिया।
– हमलावर ने भी फायरिंग की जो एक पुलिस अफसर के सिर में लगी लेकिन हेलमेट पहने होने से वह बच गया।

24 घंटे में दूसरी घटना

– शहर में 24 घंटे के भीतर गोलीबारी की यह दूसरी घटना है।
– शुक्रवार को इस क्लब से महज चार मील दूर एक थियेटर में सनकी फैन ने स्टार सिंगर क्रिस्टीना ग्रिमी की हत्या कर दी थी।
– ग्रिमी उस वक्त प्रोग्राम खत्म कर फैन्स को ऑटोग्राफ दे रही थीं।
– इस घटना में हमलावर केविन जेम्स ने भी खुद को गोली मार ली थी।
पिछले साल अमेरिका में फायरिंग के 330 बड़े और 53 हजार छोटे मामले
– 2015 में अमेरिका में फायरिंग के 350 बड़े और 53030 छोटे मामले सामने आ चुके हैं।
– 96 बड़े मामले बार, क्लब या पार्टी के दौरान हुए।
– 83 मामलाें में गैंग ने फायरिंग की।
– 68 मामले घरेलू लड़ाई के बाद फायरिंग के हुए।
– 54 मामले ऐसे थे, जिनमें फायरिंग का कारण का पता नहीं चल पाया।
– 12 मामले लूट के हुए।
– 6 आतंकी हमले थे। 2 हमले आईएसआईएस ने किए।
क्या है वजह?

– एक सर्वे के मुताबिक, अमेरिका में 100 में से 88 लोगों के पास गन होती है।
– ओबामा का कहना है कि अभी वेबसाइट्स भी अमेरिका में आसानी से गन बेच रही हैं। उन्हें भी फेडरल लाइसेंसिंग के दायरे में लाने की जरूरत है।
– गन लाइसेंस हासिल करने वालों के बैकग्राउंड की जांच की जाती है, लेकिन इसमें उतनी सख्ती है।

About indianz xpress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pin It on Pinterest

Share This