Friday , January 22 2021 3:47 PM
Home / Lifestyle / अनुष्का शर्मा बनीं मां, विराट संग मिलकर बच्चे को देना चाहती हैं इस तरह की परवरिश

अनुष्का शर्मा बनीं मां, विराट संग मिलकर बच्चे को देना चाहती हैं इस तरह की परवरिश

अनुष्का शर्मा और विराट कोहली पैरंट्स बन चुके हैं। इस कपल ने बेटी होने की खुशखबरी अपने फैन्स के साथ सोशल मीडिया पर शेयर की है। उन्हें दुनियाभर से बधाई संदेश भेजे जा रहे हैं। लाइफ के नए चैप्टर में एंटर हो चुके इस कपल ने वैसे पहले से ही डिसाइड कर रखा था कि बच्चा होने के बाद वह कैसे सबकुछ संभालने वाले हैं। ये ऐसी चीजें हैं, जिन्हें शायद हर कपल को जान लेना चाहिए, ताकि बच्चे की परवरिश के साथ ही उनके बीच का रिश्ता हेल्दी बने रहे।
जिम्मेदारी : अनुष्का ने एक इंटरव्यू में बताया था कि बच्चा होने के बाद उसे संभालने की जिम्मेदारी उनकी और विराट की बराबर की होगी। दोनों मां या पिता बनकर अलग-अलग भूमिका नहीं निभाएंगे, बल्कि ‘फैमिली यूनिट’ की तरह काम करेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि बच्चे को दोनों का ‘बैलेंस्ड आउटलुक’ मिले। उन्होंने यह भी माना था कि शुरुआत में वह मुख्य केयरगिवर होंगी।
बच्चे को पालने की जिम्मेदारी जब कपल बराबरी से निभाता है, तो इसका उनके रिश्ते पर पॉजिटिव असर पड़ता है। दरअसल, परवरिश का किसी एक ही पैरंट के हिस्से जिम्मेदारी आना उसे स्ट्रेस में डाल सकता है। यह धीरे-धीरे नेगेटिविटी को बढ़ावा दे सकता है। वहीं दूसरी ओर जब दोनों मिलकर जिम्मेदारी संभालते हैं, तो वे बच्चे के साथ ही एक-दूसरे का भी ख्याल रख पाते हैं। यह उनके बॉन्ड को और भी ज्यादा स्ट्रॉन्ग बना देता है।
सपोर्ट और साथ में समय बिताना : ऐक्ट्रेस ने वोग को दिए इंटरव्यू में ये भी कहा था कि बच्चा होने के बाद वह कितना काम करेंगी, यह वह खुद डिसाइड कर सकती हैं। वहीं दूसरी ओर विराट कोहली को सालभर मैच के लिए ऐक्टिव बने रहना पड़ता है। अनुष्का ने कहा था कि इन स्थितियों के कारण सबसे ज्यादा अहम बतौर परिवार साथ में समय बिताना होता है।
अनुष्का का यह स्टेटमेंट यह शो करता है कि वह अपने पति के करियर को कितना सपोर्ट करती हैं। बच्चा होने के बाद वह विराट पर कोई दबाव नहीं डालने वालीं, बल्कि उनका फोकस तो क्वॉलिटी टाइम स्पेंड करने पर होगा। यह समय बच्चे के अपने पैरंट्स के साथ रिश्ते के लिए बहुत ज्यादा अहम होता है। साथ ही में पति-पत्नी को भी यह जुड़े रहने, प्रॉपर कम्यूनिकेशन बनाए रखने और लगाव को जिंदा रखने में मदद करता है।
सोशल मीडिया से दूरी : अनुष्का ने साफ किया था कि वह और विराट अपने बच्चे को सोशल मीडिया से दूर रखने वाले हैं। वह नहीं चाहते कि उसे अनचाहा अटेंशन मिले। ऐक्ट्रेस ने इस बात पर जोर दिया था कि यह उनके बच्चे का कॉल होगा कि वह कैसे इस चीज से जुड़ना चाहता है।
सोशल मीडिया के नेगेटिव अस्पेक्ट से हर कोई परिचित है। यह ऐसा प्रेशर लेकर आता है, जो कपल के रिश्ते पर भी असर डाल सकता है। लाइक्स और कॉमेंट्स की दौड़ में कई बार पैरंट्स असली फैमिली टाइम को इंजॉय करना ही भूल जाते हैं। यह धीरे-धीरे नेगेटिविटी और स्ट्रेस को पनपने का मौका देता है। जो न तो बच्चे के लिए अच्छा है और ना ही कपल के रिश्ते के लिए।
तालमेल है जरूरी : ऐक्ट्रेस ने अपने बच्चे को संस्कारी, बड़ों का सम्मान करने और प्यार भरा माहौल देने पर भी जोर दिया था। उन्होंने कहा था कि ये ऐसी चीजें हैं, जो विराट और उनके बीच समान हैं और इन्हें वे अपने बच्चे को भी जरूर देंगे।
बच्चे के लिए पहले टीचर उसके पैरंट्स ही होते हैं। हालांकि, सबसे ज्यादा अहम ये हो जाता है अपनी पैरंटिंग में बैलेंस बनाए रखना। इस बात में कोई दो राय नहीं कि दो लोगों का चीजों को देखने का नजरिया अलग होता है और इस वजह से कपल के बीच बच्चे को दी जाने वाली सीख में भी अंतर हो सकता है। यह उनके बीच बड़े झगड़े का कारण बन सकता है। बेहतर यही है कि इसे लेकर आप आपस में तालमेल बनाए रखें और जो भी निर्णय लेना हो वो मिलकर ही लें।

About indianz xpress

Pin It on Pinterest

Share This