Sunday , July 21 2024 3:48 AM
Home / Entertainment / Bollywood / सचिन की फिल्म का ट्रेलर रिलीज, मैच फिक्सिंग का भी है जिक्र

सचिन की फिल्म का ट्रेलर रिलीज, मैच फिक्सिंग का भी है जिक्र


मुंबईः क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर की जिंदगी पर बन रही फिल्म ‘सचिन: अ बिलियन ड्रीम’ के ट्रेलर का दर्शकों को बेसब्री से इंतजार था। अब ये इंतजार खत्म हो गया है। सचिन की बायोपिक का ट्रेलर लॉन्च कर दिया गया है।

‘सचिन: अ बिलियन ड्रीम’ में सचिन के बचपन से लेकर उनके भगवान बनने तक के सफर को दिखाया गया है। ट्रेलर में सचिन ने बोलते हुए बताया कि क्रिकेट में आने का सपना उन्होंने 1983 में देखा था। 1983 भारतीय क्रिकेट का सुनहरा साल था। इसी साल कपिल देव की कप्तानी में भारत ने अपना पहला वर्ल्ड कप जीता था। फिल्म में सचिन के अलावा उनके बेटे ने भी एक्टिंग की है वहीं कुछ असल फुटेज भी इस्तेमाल की गई हैं।

गौरतलब है कि धोनी की बायोपिक में जहां सुशांत सिंह राजपूत ने महेंद्र सिंह धोनी की भूमिका निभाई थी वहीं इस फिल्म सचिन खुद एक्ट करते नजर आएंगे। 90 के दशक में सचिन के लिए लोगों का दीवानापन और उनके क्रिकेट को लेकर जुनून को ट्रेलर में अच्छी तरह दिखाया गया है। फिल्म को संगीत दिया है ए.आर रहमान ने। कम उम्र में ही क्रिकेट खेलने से लेकर इस खेल में राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करने तक की उनकी यात्रा दुनिया भर में उनके फैंस के लिए बातचीत का एक विषय है। सचिन: बिलियन ड्रीम्स नाम से क्रिकेट के इस भगवान पर बनी इस बायोपिक को जेम्स एर्सकाइन ने डायरेक्ट किया है। उन्होंने इस खूबसूरत यात्रा को अपनी फिल्म में कैद कर लिया है। फिल्म 26 मई को सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी।

बता दें कि इस फिल्म का प्रोडक्शन किया है भागचंदका ने। फिल्म मराठी, हिंदी, अंग्रेजी तमिल और तेलुगू भाषाओं में देखने को मिलेगी। फिल्म में आपको सचिन की निजी जिंदगी से जुड़े कई ऐसे दृष्य भी देखने को मिलेंगे जो इससे पहले कभी भी दुनिया के सामने नहीं आए हैं। हालांकि ट्रेलर के कुछ दृष्यों को देखने के बाद ऐसा लगता है कि फिल्म को डॉक्यूमेंट्री जैसा फील देने की कोशिश की गई है। सचिन की पत्नी ट्रेलर में बताती हैं कि किस तरह सचिन के लिए उनका खेल प्राथमिकता रखता था और बाकी चीजें बाद में। वह कहती हैं कि सचिन के लिए हम सभी दूसरे नंबर पर हैं यह हमने स्वीकार कर लिया था। वह गेम को लेकर इतना ज्यादा सीरियस था कि टीम के हार जाने पर कई बार ठीक से सो भी नहीं पाता था।